राष्ट्रीय

WHO के सदस्य देशों के सहयोग से हम कोरोना हरा पाने के नजदीक: डॉ. हर्षवर्धन

नई दिल्ली
कोरोना को लेकर जारी जंग के बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने WHO के कार्यकारी बोर्ड की बैठक के 148 वें सत्र में कहा कि मैं सदस्य देशों को धन्यवाद देता हूं कि उनके महामारी विज्ञान के रुझानों में व्यापक असमानता के बावजूद, हम पूर्वव्यापी, सक्रिय और सहयोगी रणनीतियों को अपनाकर महामारी को हराने के नजदीक हैं। भारत में दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान लगातार जारी है। लेकिन कुछ राज्यों ने सूचना दी है कि उनके यहां पर्याप्त हेल्थ वर्कर वैक्सीन लगवाने सामने नहीं आ रहे हैं जिससे वैक्सीन की खुराक बर्बाद हो रही है। दरअसल लोग झिझक रहे हैं। इसको लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने हाल ही में स्पष्ट किया की टीका पूरी तरह से सुरक्षित और प्रभावी है। उन्होंने कहा कि बताई जा रही प्रतिकूल घटनाओं या साइड इफेक्ट सरफेसिंग आम हैं और यह किसी भी टीकाकरण के बाद देखा जा सकता है। कोविड-19 के ताबूत में ये टीकाकरण अंतिम कील की तरह होगा। यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि कुछ लोग राजनीतिक कारणों से टीकाकरण के बारे में गलत जानकारी फैला रहे हैं। इससे लोगों के एक समूह में वैक्सीन को लेकर झिझक पैदा हो गई है।

देश में लगातार कई राज्य वैक्सीन हिचकिचाहट की समस्या को रेखांकित कर रहे हैं. अब ये समस्या आविष्कारों को प्रभावित कर सकती हैं।कोविड -19 टीकाकरण कार्यक्रम के लिए भारत की शुरुआत दुनिया में सबसे मजबूत शुरुआतों में से एक रही है,  किसी भी अन्य देश की तुलना में  भारत मे वैक्सीन पहले दिन अधिक लोगों तक पहुंची है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close