उत्तर प्रदेशराज्य

CBI ने टीचराें से पूछताछ के बाद पकड़ा बड़ा झूठ, स्कूल के कागजात लिए कब्जे में 

हाथरस 
हाथरस के बूलगढ़ी में युवती की गैंगरेप के बाद मौत के मामले की जांच कर रही सीबीआई ने गांव के प्राथमिक विद्यालय के हेड मास्टर को रिकार्ड सहित तलब किया। सुबह दस बजे हेड मास्टर अभिलेख लेकर कैम्प कार्यालय पहुंच गए। सीबीआई ने रजिस्टर को अपने कब्जे में ले लिया है। सूत्रों के अनुसार जेल गये एक आरोपी जिस स्कूल में पढ़ता था। उसमें उसकी दो जन्म तिथि दर्ज है। बताया जाता है कि आरोपी ने कक्षा तीन में स्कूल छोड़ दिया था। दो साल बाद उसने फिर से प्रवेश ले लिया,लेकिन जिस वक्त उसने स्कूल छोड़ा था। उस वक्त दर्ज जन्मतिथि के हिसाब से वह बीस साल दस माह का है और दोबारा उसने जिस जन्म तिथि से प्रवेश पाया था। उस हिसाब से वह 17 साल दस महीने का है। इसे लेकर बेसिक शिक्षा विभाग के अधिकारियों में हड़कम्प मचा हुआ है।

सीबीआई को पन्द्रह दिन से अधिक का समय बीत चुका है। जिले में आने के बाद से सीबीआई दल लगातार जांच में जुटा है। कई-कई बार हर पहलू की जांच हो चुकी है। तमाम बार सीबीआई ने घटना स्थल को देखा है। इस मुकदमे से जुड़े एक एक व्यक्ति से कई कई बार पूछताछ हो चुकी है। जबकि शुरुआत में चर्चा थी कि सीबीआई पन्द्रह दिन के अंदर अपनी जांच पूरी कर लेगी, लेकिन जिस तरह से नये-नये तथ्य सामने आ रहे हैं उससे सीबीआई की जांच बढ़ती जा रही है। पुलिस ने जिन चार आरोपियों को गैंगरेप और हत्या में जेल भेजा है। उनमें से एक आरोपी की उम्र 18 साल से कम बताई गई है, कुछ दिन पहले सीबीआई को एक आरोपी के घर से हाईस्कूल फेल की मार्कशीट मिली थी। उसके अनुसार आरोपी दिसम्बर महीने में 18 साल का होगा। सीबीआई ने अपनी जांच में यह भी पता किया कि आरोपी गांव के प्राइमरी स्कूल में पढ़ा था। इसलिए सीबीआईने हेड मास्टर धर्मवीर सिंह को नोटिस देकर रिकार्ड लेकर तलब कर लिया। बुधवार की सुबह नौ बजे हेड मास्टर सबसे पहले अपने स्कूल आये। उसके बाद वहां से एसआर रजिस्टर लेकर सीधे सीबीआईके कैम्प कार्यालय पहुंच गये। करीब एक घंटे तक सीबीआई ने पूछताछ की। उसके बाद हेड मास्टर सीधी अपनी बीआरसी पहुंच गये।

चंदपा इंस्पेक्टर से की लंबी बातचीत
सीबीआई की एक टीम दोपहर को चंदपा कोतवाली पहुंच गयी। वहां सीबीआई के अधिकारियों ने चंदपा के इंस्पेक्टर लक्ष्मण सिंह से काफी देर तक बातचीत होती रही। कई घंटे तक लंबी बातचीत हुई। शाम के चार बजे तक टीम तक रही।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button