मनोरंजन

BMC ने कंगना को साल 2018 में ही दिया था नोटिस

मुंबई
कंगना रनौत और महाराष्ट्र सरकार के बीच चल रहे घमासान के बीच BMC ने बीच में आकर एक्ट्रेस को 24 घंटे का नोटिस दिया और बाद में उनके मुंबई स्थित ऑफिस में तोड़फोड़ करनी शुरू कर दी. ये लड़ाई वैसे तो अभी भी जारी है. लेकिन BMC का कहना है कि कंगना रनौत के खार स्थित घर यानी उनके फ्लैट के कई हिस्से भी गैर कानूनी रूप से बने हुए हैं. हाल ही में BMC ने बॉम्बे हाई कोर्ट से कंगना के फ्लैट को तोड़ने पर लगी रोक को हटाने की मांग की थी.

 BMC के नोटिस की एक्सक्लूसिव कॉपी लगी है, जो उन्होंने कंगना रनौत को उनके खार वाले फ्लैट के संबंध में दी थी. BMC के अधिकारियों का कहना है कि कंगना के घर में जो गैर कानूनी रूप से निर्माण हो रखा है, वो उनके पाली हिल वाले ऑफिस से ज्यादा गंभीर है, जिसे BMC ने तोड़ा था. कंगना के घर को लेकर मामला फिलहाल कोर्ट में है और 25 सितम्बर को उसकी सुनवाई होनी है.

नोटिस की बात करें तो कंगना और उनकी बिल्डिंग में रहने वाले कुछ लोगों को BMC ने साल 2018 में एक नोटिस भेजा था. जिस बिल्डिंग में कंगना रहती हैं उसका नाम DB Breeze (Orchid Breeze) है. ये 16th रोड खार वेस्ट पर है. इस बिल्डिंग की पांचवीं फ्लोर पर कंगना के तीन फ्लैट हैं. पहला फ्लैट 797sqft, दूसरा 711sqft और तीसरा 459sqft का है. तीनों फ्लैट 8/3/2013 के दिन कंगना रनौत के नाम रजिस्टर हुए थे.

कंगना के फ्लैट लेने के पांच साल बाद 13/3/2018 को उनके तीनों फ्लैट में गैर कानूनी कंस्ट्रक्शन की शिकात दर्ज की गई थी. इसके बाद 26/3/2018 को फील्ड अफसर की इंस्पेक्शन रिपोर्ट ली गई थी. उसी दिन कंगना को BMC द्वारा एक नोटिस दिया गया था. इसमें कहा गया था 53/1 of MRTP के तहत कंगना के घर में 27/3/2014 को अप्रूव किए गए प्लान से ज्यादा और गैर कानूनी निर्माण हुआ है.

 उस नोटिस की लिस्ट में आखिर क्या लिखा हुआ था. BMC के उस नोटिस में लिखी बातें ये रहीं:

1) जमीन में भराव किया हुआ पाया गया.

2) प्लान के मुताबिक Planter sunk नहीं मिले और सीढ़ियों में भी बदलाव मिला है.

3) बगल की दीवारों को हटाकर छज्जे को बालकनी की तरह इस्तेमाल करते पाया गया.

4) Service slab sunk भरा हुआ है और बगल की दीवारों को हटाकर उसे बालकनी में बदल दिया गया है और उसमें कमरा बना दिया गया है.

5) सीढ़ियों और किचन के बीच के कॉमन रास्ते में नार्थ वेस्ट साइड को किचन के पास दरवाजा लगाकर कवर किया हुआ है.

6) फ्लैट के बीच में लॉबी के सामने दरवाजा लगाकर कॉमन रास्ते को कवर कर दिया गया है.

7) गैर कानूनी संयोजन और फ्लैट में बदलाव/जुड़ाव.

8) टॉयलेट और बाथरूम में पाइपलाइन के साइज को या तो बदला गया है या फिर कवर कर दिया गया है.

BMC अफसरों का दावा है कि ऊपर बताई गई सारी बातें गंभीर हैं. कंगना का ऑफिस जिसे BMC ने तोड़ा है, उससे ज्यादा गैर कानूनी निर्माण कंगना के घर पर हुआ है. ऊपर दिए नोटिस में BMC ने कंगना से अपने सारे अवैध निर्माण को तोड़ने या हटाने के लिए कहा है. साथ ही ये भी कहा है कि अगर वे ऐसा नहीं करतीं तो BMC के इंजिनियर को एक महीने में जवाब दें.  

शुरुआत में जवाब के तौर कंगना रनौत ने शहर के सिविल कोर्ट के 22/5/2018 को सामने आवाज उठाई थी. ये मामले अभी भी कोर्ट में विचाराधीन है. BMC ने इस मामले पर जल्द एक्शन लेने के आग्रह किया है. इसकी अगली सुनवाई 25/9/2020 को है.

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close