बिज़नेस

Bank of India को दूसरी तिमाही में 543.47 करोड़ रुपये मुनाफा

नई दिल्ली
बैंक ऑफ इंडिया (Bank of India) ने शुक्रवार को कहा कि 30 सितंबर को खत्म हुई वित्त वर्ष 2020-21 की दूसरी तिमाही में उसका संचयी शुद्ध लाभ दोगुने से अधिक बढ़कर 543.47 करोड़ रुपये हो गया। बैंक ने बीते वित्त वर्ष की समान अवधि में 257.31 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ दर्ज किया था। सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक ने शेयर बाजार को बताया कि जुलाई-सितंबर 2020 के दौरान उसकी कुल आय बढ़कर 12,477.79 करोड़ रुपये हो गई, जो बीते वर्ष की समान अवधि में 12,062.55 करोड़ रुपये थी।

बैंक ने बताया कि एकल आधार पर उसका शुद्ध लाभ बढ़कर 525.78 करोड़ रुपये हो गया, जो एक साल पहले की समान अवधि में 266.37 करोड़ रुपये था। बैंक की कुल गैर निष्पादित आस्तियां (एनपीए) 30 सितंबर 2020 तक कुल कर्ज के मुकाबले 13.79 प्रतिशत थीं। एक साल पहले की समान अवधि में यह आंकड़ा 16.31 प्रतिशत था।

3 फीसदी चढ़ा बैंक का शेयर
इस दौरान बैंक का नेट एनपीए घटकर 2.89 फीसदी रह गया जो एक साल पहले 5.87 फीसदी थी। हालांकि इस दौरान फंसे कर्ज के लिए बैंक को ज्यादा प्रॉविजन करना पड़ा। इस तिमाही यह 2133.87 करोड़ रुपये रहा जबकि एक साल पहले समान तिमाही में बैंक ने फंसे कर्ज के लिए 1452.09 करोड़ रुपये का प्रावधान किया था। बीती तिमाही में प्रॉविजंस और आपात स्थिति के लिए बैंक ने 2312.29 करोड़ रुपये का प्रावधान किया। शुक्रवार को बीएसई पर बैंक का शेयर 3.01 फीसदी की बढ़त के साथ 41.10 रुपये पर ट्रेड कर रहा था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close