छत्तीसगढ़राज्य

बंगाली बाबा को किया फोन, ठग लिए 4.15 लाख

बिलासपुर
बेटे के इलाज के लिए टीवी पर बंगाली बाबा विज्ञापन देखकर उस पर फोन लगाया और ठगों ने बेटे के मौत का डर दिखाकर उससे 4.15 लाख रुपये ठग लिए। ठगी का शिकार हुए अधेड़ ने बैंक से लोन लेकर यह रुपये निकाले थे। बार-बार रुपये मांगे जाने से परेशान अधेड़ ने कोटा थाने में मामला दर्ज करवाया।

पड़ावपारा कोटा निवासी देवानंद यादव कृषि उपज मंडी में चपरासी है। उसका बेटा काफी दिनों से बीमार रहने के कारण करीब एक साल पहले एक टीवी चैनल पर बंगाली बाबा विज्ञापन देखा, जिसमें बीमारी का शर्तिया इलाज करने का दावा किया गया था। उसमें दिए गए मोबाइल नंबर पर संपर्क किया तो किसी बंगाली बाबा से बात हुई। देवानंद ने अपने बेटे की समस्या बताई। इस पर बंगाली बाबा ने एकाउंट नंबर दिया और 5500 रुपए जमा करने के लिए कहा। उसकी बातों में आकर देवानंद ने रुपए खाते में जमा कर दिए। रुपए मिलने के बाद आरोपी ने कहा कि 2 अगरबत्ती के साथ 3 नीबू और सुई अपने घर के दरवाजे के सामने रख देना। वह अपनी शक्ति से बेटे को ठीक कर देगा। शाम को कॉल आया और बेटे व उसकी पत्नी की फोटो भेजने को कहा।

देवानंद ने फोटो वॉट्सऐप कर दी। अगले दिन बाबा का कॉल आया और बताया कि उसके घर में दो सांप हैं, जो बेटे को मार देंगे। डरकर 65 हजार रुपए फिर खाते में जमा कर दिए। फिर बाबा लगातार कॉल कर बेटे व परिवार को मरने के लिए डराता रहा। देवानंद ने बैंक से लोन तक ले लिया और अलग-अलग समय में कुल 4.15 लाख रुपए से ज्यादा आरोपी के बताए खाते में जमा कर दिए। इसके बाद भी बंगाली बाबा लगातार देवानंद को कॉल कर रहा है। देवानंद का कहना है कि बाबा ने उससे कहा कि काम हो गया है। आखिरी बार 2.24 लाख रुपए और खाते में जमा कर दे इसके बाद काम पूरा खत्म हो जाएगा। लगातार धमकी और डर के कारण उसने बंगाली बाबा का फोन तक उठाना बंद कर दिया है, लेकिन फिर भी उसके कॉल लगातार आ रहे हैं इसके चलते अब कोटा थाने पहुंचकर बंगाली बाबा द्वारा किए जा रहे उक्त नंबर के खिलाफ मामला दर्ज करवाया। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close