Home उत्तरप्रदेश यूपी की में DSP श्रेष्ठा ठाकुर को IRS होने का झांसा देकर...

यूपी की में DSP श्रेष्ठा ठाकुर को IRS होने का झांसा देकर ठग ने रचा ली थी शादी

13
0

गाजियाबाद
उत्‍तर प्रदेश के शामली में तैनात डिप्‍टी एसपी श्रेष्‍ठा ठाकुर मेट्रोमोनियल साइट के जरिये शादी कर धोखाधड़ी की शिकार हो गई हैं। 2008 बैच की तेजतर्रार पीपीएस अफसर श्रेष्‍ठा ठाकुर ने अपने पूर्व पति रोहित राज के खिलाफ गाजियाबाद के कौशांबी थाने में मुकदमा दर्ज कराया है। श्रेष्‍ठा ने अपनी शिकायत में कहा है कि रोहित राज ने खुद को आईआरएस अफसर बताया था। उसने अपनी तैनाती रांची में डिप्‍टी कमिश्‍नर पद पर बताई थी। 2018 में उन्‍होंने रोहित राज से शादी की। शादी के बाद जब उन्‍हें पति की सच्‍चाई पता चली तो पैरों तले जमीन खिसक गई। दो साल बाद उन्‍होंने रोहित राज से तलाक ले लिया। लेकिर रोहित श्रेष्‍ठा ठाकुर के नाम पर लोगों से ठगी करने लगा। फिलहाल वह गाजियाबाद में रह रहा है।

रोहित राज की तरफ से लगातार ठगी की वारदातें बढ़ती जा रही थीं। श्रेष्‍ठा ठाकुर के पास शिकायतें आने लगीं। परेशान होकर श्रेष्‍ठा ने पूर्व पति के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। बताया जा रहा है कि आरोपी ने श्रेष्‍ठा ठाकुर से भी लाखों रुपये ठगे हैं। शादी से पहले श्रेष्‍ठा के परिजनों ने रोहित राज के बारे में जानकारी जुटाई थी। उस समय इसी नाम का एक आईआरएस अफसर रांची में डिप्‍टी कमिश्‍नर पद पर तैनात था। श्रेष्‍ठा और परिवार वाले एक जैसे नाम के धोखे में आ गए थे।
रिश्‍ता बचाने के लिए चुप रहीं पर…

श्रेष्‍ठा ठाकुर ने पूर्व पति रोहित राज सिंह, ससुर वकील शरण सिंह और रोहित के भाई संजीत सिंह के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। एफआईआर में बताया गया है कि शादी के कुछ समय बाद ही श्रेष्‍ठा को अपने साथ हुए धोखे का पता चल गया था, लेकिन रिश्‍ता बचाए रखने के लिए वह चुप रहीं। लखनऊ में प्‍लॉट खरीदेन के लिए रोहत ने उनके बैंक अकाउंट से फर्जी तरीके से साइन कर 15 लाख रुपये निकाल लिए। परेशान होकर उन्‍होंने तलाक ले लिया। इसके बाद भी रोहत श्रेष्‍ठा के नाम पर लोगों से ठगी की वारदात को अंजाम देता रहा। रोहित मूलरूप से बिहार के नवादा जिले का रहने वाला है।
बीजेपी नेता को सिखाया था सबक

2017 में श्रेष्‍ठा ठाकुर बुलंदशहर में डीएसपी पद पर तैनात थीं। इस दौरान ट्रैफिल रूल तोड़ने पर उन्‍होंने बीजेपी की जिला पंचायत सदस्‍य के पति प्रमोद लोधी के खिलाफ चालान किया था। चालान कटने से नाराज प्रमोद लोधी पुलिस से उलझ गया। हाथापाई की नौबत आ गई थी। इस बात को लेकर बीजेपी के कुछ कार्यकर्ताओं ने डीएसपी श्रेष्‍ठा ठाकुर से दुव्‍यर्वहार किया था। बीजेपी कार्यकर्ताओं और श्रेष्‍ठा ठाकुर के बीच जमकर बहस हुई थी।

Previous articleसर्दी-जुकाम को दूर भगाने के 6 जापानी टिप्स
Next articleजयंत चौधरी के BJP साथ जाने से नाराज हुए नरेश टिकैट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here