Home Uncategorized सोशल कॉर्पोरेट रिस्पॉन्सिबिलिटी फंड से ग्रामीण क्षेत्रों के स्कूलों में मिलेगी सुविधाएं

सोशल कॉर्पोरेट रिस्पॉन्सिबिलिटी फंड से ग्रामीण क्षेत्रों के स्कूलों में मिलेगी सुविधाएं

41
0

भोपाल
राज्य सरकार प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों के स्कूलों शहरी क्षेत्रों की तर्ज पर सुविधाएं और संसाधन देने की कवायद शुरू करने जा रही है। इसके लिए पूर्व राष्टÑपति एपीजी कलाम के पीयूआरए फार्मूले का उपयोग किया जाएगा।

शाला स्तर पर स्थानीय संसाधनों एवं सोशल कार्पोरेट रेस्पांसब्लिटी फंड के माध्यम से स्कूलों में बेहतर संसाधनों का विकास किया जाएगा। जिन विद्यालयों में अच्छी लाइब्रेरी और खेल मैदान है उन विद्यालयों के निकट की लाइब्रेरी, खेल मैदान विहीन संस्थाओं के छात्र-छात्राओं को आपस में खेल एवं पुस्तकों का लाभ मिल सके इस हेतु कार्यवाही की जाएगी।

शिक्षा में गुणवत्ता लाने के लिए प्रतिमाह शालाओं में की जाने वाली एसएमडीसी की बैठकों में पालकों से चर्चा कर उनका उन्मुखीकरण किया जाएगा। दूरस्थ ग्रामीण क्षेत्रों में स्थित संसाधन विहीन शासकीय विद्यालयों का चिन्हांकन कर उनकी बड़े स्तर पर चलने वाली अशासकीय शालाओं से मेपिंग की जाएगी। यह अशासकीय शालाएं ऐसी दूरस्थ स्थित शासकीय शालाओं को विकसित करने की दृष्टि से अपनी सामाजिक जिम्मेदारी मानते हुए गोद ले सकेंगी। अशासकीय शालाओं और विद्यालयों के बीच कला एवं खेलकूद गतिविधियों का आयोजन किया जाएगा।

जहां एटीएम लैब्स वहां हेकेथॉन का आयोजन
उच्चतर माध्यमिक स्तर की शालाओं विशेष कर जहां एटीएम लेब्स है वहां हेकेथान का आयोजन किया जाएगा जिससे कि विभन्न विभागों तथा आम नागरिकों द्वारा दिन-प्रतिदिन के जीवन में आ रही समस्याओं का समाधान निकालने क लिए विद्यार्थियों को अवसर दिए जा सकते है तथा इस प्रकार के समाधान को वृहद रूप देकर राज्य में अपनाया जाएगा।

शिक्षक करेंगे स्कूल भ्रमण
इसके अलावा शासकीय एवं अशासकीय स्कूलों के शिक्षकों का परस्पर एक-दूसरे की शालाओं में शैक्षणिक भ्रमण भी कराया जाएगा ताकि ग्रामीण अंचलों में भी शहरों की तरह शैक्षणिक वातावरण उपलब्ध हो सके। शिक्षण-प्रशिक्षण कार्यो के संदर्भ में लघु स्तर पर भी नवाचार, छोटे-छोटे सुधार तथा लघु परियोजनााओं को लिये जाने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा। ऐसे सफल प्रयोगों को दूसरे स्थानों पर दोहराया जा सकेगा।

Previous articleलिंगराज मंदिर में गृह मंत्री अमित शाह ने किया दर्शन पूजन, बोले- प्रत्येक शिला पर देखने को मिला भारतीय शिल्पकला का अद्भुत चमत्कार
Next articleदेश के इन हिस्सों में अगले कई दिनों तक होगी जमकर बारिश, जारी हुआ IMD का अलर्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here