Home Uncategorized मंत्री सारंग ने ली भोपाल गैस त्रासदी राहत एवं पुनर्वास विभाग की...

मंत्री सारंग ने ली भोपाल गैस त्रासदी राहत एवं पुनर्वास विभाग की बैठक

53
0

भोपाल
चिकित्सा शिक्षा, भोपाल गैस त्रासदी एवं पुनर्वास मंत्री विश्वास कैलाश सारंग ने मंत्रालय स्थित समिति कक्ष में भोपाल गैस त्रासदी राहत एवं पुनर्वास विभाग की समीक्षा बैठक ली। मंत्री सारंग ने कहा कि गैस पीड़ितों के लिये कैंसर के उपचार के लिये कैंसर अस्पताल अति-आवश्यक है। उन्होंने गैस राहत विभाग के रसूल अहमद सिद्दिकी पल्मोनरी मेडिसिन सेंटर को कैंसर अस्पताल के रूप में विकसित करने की योजना तैयार करने के निर्देश दिये।

जीवन ज्योति कॉलोनी में गैस पीड़ितों को मूलभूत सुविधाओं की उपलब्धता हो सुनिश्चित

मंत्री सारंग ने गैस पीड़ितों के लिये जीवन ज्योति कॉलोनी की मूलभूत सुविधाओं का आकलन कर नगर निगम भोपाल से उक्त बस्ती में आवश्यक सुविधाएँ उपलब्ध कराने की कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देश दिये।

गैस राहत अस्पतालों में फायर एवं इलेक्ट्रिकल ऑडिट सुनिश्चित करें

मंत्री सारंग ने विभागीय अधिकारियों को गैस राहत के अस्पतालों में काया-कल्प अभियान अंतर्गत फायर एवं इलेक्ट्रिकल ऑडिट सहित सभी सुरक्षा मानकों की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश दिये।

23.76 करोड़ रूपये से होगा काया-कल्प

मंत्री सारंग ने गैस राहत विभाग में संचालित 6 चिकित्सालय, 6 डिस्पेंसरी तथा मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय के काया-कल्प के उद्देश्य से अधो-संरचना विकास एवं भवन के रख-रखाव और रिनोवेशन का कार्य कराने के लिये 23 करोड़ 76 लाख रूपये के प्राक्कलन का अनुमोदन दिया।

मंत्री सारंग ने निर्देश दिये कि विभाग द्वारा काया-कल्प कार्य की प्राथमिकता को दृष्टिगत रखते हुए प्राक्कलन समय-सीमा में कराया जाना सुनिश्चित करें, जिससे मरीजों को ज्यादा से ज्यादा लाभ मिल सके।

गैस पीड़ितों के आर्थिक पुनर्वास के लिये पूर्व में स्वीकृत राशि का करें आकलन

गैस राहत विभाग द्वारा उपकरणों की आवश्यकता के लिये प्राप्त प्रस्ताव में वर्तमान में 2665 उपकरण चिन्हांकित किये गये हैं। मंत्री सारंग ने कहा कि उपकरणों की सूची संबंधित चिकित्सालय अधीक्षक तथा मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी गैस राहत पुनः परीक्षण कर 2 दिवस में प्रस्ताव प्रस्तुत करें। मंत्री सारंग ने गैस पीड़ितों के आर्थिक पुनर्वास के लिये पूर्व में स्वीकृत राशि का भी आकलन कर प्रस्तावित कार्यवाही प्रस्तुत करने के निर्देश दिये।

 गैस राहत एवं चिकित्सा शिक्षा विभाग की संयुक्त बैठक करने निर्देश दिये

मंत्री सारंग ने शहर में स्वास्थ्य एवं चिकित्सीय सुविधाओं के विस्तार के उद्देश्य से एक हफ्ते के भीतर गैस राहत एवं चिकित्सा शिक्षा विभाग की संयुक्त बैठक करने के निर्देश दिये। इसमें चिकित्सा शिक्षा विभाग द्वारा संचालित मेडिकल नॉलेज शेयरिंग मिशन में इंदिरा गांधी महिला एवं बाल्य चिकित्सालय और गांधी चिकित्सा महाविद्यालय द्वारा एक साथ समन्वय कर चिकित्सा सुविधाओं के विस्तार को लेकर चर्चा की जायेगी।

अपर मुख्य सचिव मोहम्मद सुलेमान, प्रमुख सचिव लोक निर्माण नीरज मण्डलोई, प्रमुख सचिव श्रीमती करलिन खोंगवार, संचालक गैस राहत एवं पुनर्वास बसंत कुर्रे एवं उप सचिव के.के. दुबे सहित चिकित्सालय अधीक्षक, मुख्य चिकित्सा स्वास्थ्य अधिकारी गैस राहत और निर्माण विभाग के कार्यपालन यंत्री उपस्थित थे।

 

Previous articleकश्मीर से आर्टिकल-370 हटने की तीसरी बरसी, जहर उगलने के लिए पाकिस्तान ने तैयार किए टूलकिट
Next articleराजीव आश्रय योजना : दावा आपत्तियां अब 8 तक ली जाएंगी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here