Home राजनीति हमले को बना लो हथियार, केजरीवाल की ‘मोदी चाल’, क्या गुजरात में...

हमले को बना लो हथियार, केजरीवाल की ‘मोदी चाल’, क्या गुजरात में AAP करेगी कमाल?

41
0

 नई दिल्ली
 
'हां, मैं जनता को मुफ्त रेवड़ी दूंगा।', आम आदमी पार्टी (AAP) के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने 'रेवड़ी कल्चर' पर हुए हमले को अपना हथियार बना लिया है और आक्रमकता के साथ खुद को जनता के लिए 'रेवड़ीवाला' प्रचारित करने में जुट गए हैं। गुजरात विधानसभा चुनाव के 5 महीने पहले ही प्रचार अभियान को तेज कर चुके केजरीवाल मुफ्त बिजली जैसा दांव चल चुके हैं और आने वाले समय में 'फ्री' वाले कई वादे पेश कर सकते हैं। अरविंद केजरीवाल ने जिस तरह 'रेवड़ी' से मिठास लेने की कोशिश करते दिख रहे हैं उसे राजनीतिक जानकार पीएम मोदी के 'मैं भी चौकीदार' दांव से जोड़कर देख रहे हैं।  

गुजरात के मुख्यमंत्री से लेकर देश के लगातार दो बार प्रधानमंत्री बनने तक, मोदी के अब तक के सफल सफर का विश्लेषण करने वाले कहते हैं कि उनकी सबसे बड़ी मजबूती यही है कि विपक्ष के हमलों को अपना हथियार बनाने में माहिर हैं। गुजरात दंगा, चायवाला या चौकीदार चोर… विपक्ष को हमेशा उसके ही तीर से वह घायल करते रहे हैं। अब कुछ इसी तर्ज पर अरविंद केजरीवाल ने भी 'रेवड़ी' को अपने हक में भुनाने की कोशिश शुरू कर दी है। हालांकि, यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा कि उन्हें इस दांव का कितना फायदा मिलता है, लेकिन वह मोदी के गढ़ में खुलकर उन्हें चुनौती दे रहे हैं।

जनता चाहती है 'मुफ्त रेवड़ी'?
हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 'रेवड़ी कल्चर' को देश के लिए खतरनाक बताते हुए लोगों से नकारने की अपील की है तो सुप्रीम कोर्ट ने भी चुनावों में मुफ्त वादों की झड़ी लगाए जाने पर चिंता जाहिर की है। हालांकि, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का दावा है कि जनता मुफ्त शिक्षा और स्वास्थ्य जैसी सुविधाएं चाहती हैं, जिस पर वह कायम रहेंगे। उन्होंने 1 अगस्त को गुजरात में एक रैली के दौरान रेवड़ी पर रेफरेंडम करा लेने की चुनौती भी दी। केजरीवाल ने बिना नाम लिए भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि वे लोग मंत्रियों, अपने दोस्तों को रेवड़ी बांटते हैं और AAP सरकार जनता को रेवड़ी देती है क्योंकि इस पर उसका हक है। इसी रैली में एक और दिलचस्प नजारा दिखा जब एक 'केजरीवाल रेवड़ीवाला' बनकर आया कार्यकर्ता 'रेवड़ी ले लो, मुफ्त रेवड़ी ले लो' की आवाज लगाने लगा। हल्के-फुल्के अंदाज में 'आप' ने मुफ्त बिजली-पानी, मुफ्त बस सफर और बुजुर्गों को मुफ्त तीर्थयात्रा जैसे लोकलुभावन योजनाओं को दिल्ली-पंजाब के अलावा दूसरे राज्यों में भी आजमाने का संदेश दे दिया है।

क्या कहा था पीएम मोदी ने?
पीएम मोदी ने हाल के दिनों में कम से कम तीन बार 'रेवड़ी कल्चर' को देश के लिए घातक बताते हुए इस पर प्रहार किया है। पीएम मोदी ने कहा कि हमारे देश में मुफ्त की रेवड़ी बांटकर वोट बटोरने का कल्चर लाने की कोशिश हो रही है। ये रेवड़ी कल्चर देश के विकास के लिए बहुत घातक है। इस रेवड़ी कल्चर से देश के लोगों को बहुत सावधान रहना है। उन्होंने यह भी कहा कि मुफ्त रेवड़ी बांटने वाले कभी नई सड़कें और नए एयरपोर्ट नहीं बना सकते हैं। हालांकि, पीएम मोदी ने ऐसा कहते हुए किसी दल या नेता का नाम नहीं लिया था। अरविंद केजरीवाल ने इसे खुद पर हमले के तौर पर लिया और अब इसे हथियार के तौर पर इस्तेमाल की कोशिश कर रहे है।

 

Previous articleजालंधर: 13 अगस्त से शुरू होगा अभियान, भाजपा नेता अमरी बोले- बरकरार रखेंगे झंडे की शान
Next articleDSP बनते ही अर्थशास्त्र के शिक्षक ने मचा दिया तहलका, रिश्तेदारों की भर दी खाली झोलियां

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here