Home देश बोम्मई की जाएगी कुर्सी? अमित शाह के औचक दौरे से बढ़ी हलचल,...

बोम्मई की जाएगी कुर्सी? अमित शाह के औचक दौरे से बढ़ी हलचल, युवा नेता की हत्या से BJP में तनाव

42
0

 नई दिल्ली।
 
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के दो दिवसीय बेंगलुरू दौरे की खबर से राज्य की भाजपा इकाई में अचानक हलचल मच गई। नेताओं का एक वर्ग उनसे मिलने का प्रयास कर रहा है, ताकि उनके साथ पार्टी के मामलों पर चर्चा की जा सके। कहा जा रहा है कि भाजपा की कर्नाटक इकाई अमित शाह के दौरे को लेकर अनिश्चित थी। इस बात की अटकलें लगाई गईं कि वह गुरुवार सुबह ताज वेस्ट एंड में सरकार के संकल्प से सिद्धि कार्यक्रम में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए भाग ले सकते हैं।

अमित शाह के के कार्यालय ने उनके दौरे का कार्यक्रम देर शाम को जारी किया। शाह बुधवार रात को होटल पहुंचेंगे और अगली सुबह कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। इसके बाद उसी दिन दोपहर में दिल्ली के लिए रवाना होंगे। अमित शाह का 90 मिनट का आधिकारिक कार्यक्रम सुबह 11 बजे ही शुरू होगा। ऐसे में उम्मीद है कि उनके पास कुछ महत्वपूर्ण नेताओं से मिलने और राज्य की ताजा राजनीतिक स्थिति पर चर्चा करने के लिए सुबह का कुछ समय होगा। केंद्रीय गृह मंत्री का दौरा राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) द्वारा युवा मोर्चा के पदाधिकारी प्रवीण नेट्टारू की हालिया हत्या की तटीय दक्षिण कन्नड़ जिले में जांच के साथ मेल खाता है।

युवा मोर्चा कर रहा सीएम की इस्तीफे की मांग
वह इस मामले पर मीडिया को संबोधित भी कर सकते हैं। आपको बता दें कि इस घटना में राज्य की भाजपा को संकट में डाल दिया है। युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं के एक वर्ग ने विद्रोह कर दिया है। उन्होंने प्रदेश के गृह मंत्री अरागा ज्ञानेंद्र और मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई के इस्तीफे की मांग की है।

NIA जांच के दिए हैं आदेश
अमित शाह को इस मामले की पूरी जानकारी दी गई है। केंद्रीय कृषि और किसान कल्याण मंत्री शोभा करंदलाजे ने मंगलवार को दिल्ली में उनसे मुलाकात की और उन्हें एनआईए जांच की मंजूरी देने के लिए धन्यवाद देते हुए तटीय कर्नाटक में कट्टरपंथी तत्वों से पार्टी कैडर को होने वाले खतरों के बारे में बताया। कर्नाटक भर के पार्टी कार्यकर्ताओं एक बड़े वर्ग ने अपने नेताओं और मंत्रियों के कामकाज की शैली पर ध्यान आकर्षित करने की मांग की है। वे सोशल मीडिया पर उनकी आलोचना कर रहे हैं। इससे विपक्षी कांग्रेस और जद(एस) खेमे में खुशी का माहौल है। बोम्मई और भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष नलिनकुमार कतील गुरुवार सुबह अमित शाह से मुलाकात कर सकते हैं। वे उन्हें इस पूरी घटना पर रिपोर्ट सौंप सकते हैं।

 

Previous articleशिशुओं के लिये सुरक्षा कवच है स्तनपान
Next articleजीएसपी, तकनीकी शिक्षा और सेल्स फ़ोर्स के मध्य होगा एमओयू

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here