Home विदेश अमेरिका ने अल-जवाहिरी की मौत के बाद दुनिया भर में जारी किया...

अमेरिका ने अल-जवाहिरी की मौत के बाद दुनिया भर में जारी किया अलर्ट, नागरिकों से सतर्कता बरतने की कही बात

41
0

वाशिंगटन
अमेरिका ने दुनिया भर में अलर्ट जारी कर अपने नागरिकों को विदेश यात्रा करते समय उच्च स्तर की सतर्कता बनाए रखने के लिए कहा है क्योंकि अल-कायदा समर्थक आतंकवादी नेटवर्क के आतंकी अयमान अल-जवाहिरी (Ayman al-Zawahiri) की हत्या के मद्देनजर अमेरिकी सुविधाओं, कर्मियों या नागरिकों को निशाना बना सकते हैं। बता दें कि जवाहिरी, जिन्होंने 9/11 के हमलों में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी और बाद में भारतीय उपमहाद्वीप में समूह के क्षेत्रीय सहयोगी का गठन किया था, शनिवार को केंद्रीय खुफिया एजेंसी (CIA) द्वारा अफगानिस्तान की राजधानी काबुल के एक पॉश इलाके में एक घर पर किए गए ड्रोन हमले में अयमान अल-जवाहिरी (Ayman al-Zawahiri) मारा गया था।

उसकी मौत के बाद विदेश विभाग द्वारा जारी अलर्ट में कहा गया है कि, अल-जवाहिरी की मौत के बाद, अल-कायदा के समर्थक या उससे जुड़े आतंकवादी संगठन अमेरिकी सुविधाओं, कर्मियों या नागरिकों पर हमला करने की कोशिश कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि जैसा कि आतंकवादी हमले अक्सर बिना किसी चेतावनी के होते हैं, अमेरिकी नागरिकों को उच्च स्तर की सतर्कता बनाए रखने और विदेश यात्रा करते समय जागरूकता बरतनी चाहिए। उन्होंने लोगों को चेतावनी दी कि, विदेश विभाग अमेरिकी नागरिकों और विदेशों में हितों के खिलाफ आतंकवादी हमलों, प्रदर्शनों और अन्य हिंसक कार्रवाइयों के निरंतर खतरे के बारे में चिंतित है। राज्य विभाग का मानना है कि 31 जुलाई, 2022 को अयमान अल-जवाहिरी की मौत को देखते हुए अमेरिकी विरोधी हिंसा की अधिक संभावना है।

वर्तमान जानकारी से पता चलता है कि आतंकवादी संगठन दुनिया भर के कई क्षेत्रों में अमेरिकी हितों के खिलाफ आतंकवादी हमलों की योजना बना रहे हैं। एडवाइजरी में कहा गया है कि ये हमले आत्मघाती अभियानों, हत्याओं, अपहरणों और बम विस्फोटों सहित कई तरह के हथकंडे अपना सकते हैं। उन्होंने विदेशों में अमेरिकी नागरिकों को स्थानीय समाचारों पर निगरानी रखने और निकटतम अमेरिकी दूतावास या वाणिज्य दूतावास के साथ संपर्क बनाए रखने के लिए कहा। इसके साथ ही कहा कि, यात्रियों को सुरक्षा संदेश प्राप्त करने और आपात स्थिति में उनका पता लगाना आसान बनाने के लिए स्मार्ट ट्रैवलर एनरोलमेंट प्रोग्राम (Smart Traveler Enrollment Program, STEP) में नामांकन करने के लिए भी कहा।

उन्होंने कहा कि, विभाग इन सुरक्षा संदेशों का उपयोग आतंकवादी खतरों, सुरक्षा घटनाओं, नियोजित प्रदर्शनों, प्राकृतिक आपदाओं आदि के बारे में जानकारी देने के लिए करता है। साथ ही कहा, निजी अमेरिकी नागरिकों को इस समय किसी भी देश की यात्रा नहीं करनी चाहिए।

Previous articleचीन: नकाबपोश सिरफिरे ने किंडरगार्टन में बरपाया कहर, चाकू गोदकर 3 लोगों को मारा; 6 घायल
Next articleमहिलाओं की नाइट शिफ्ट के वार्डन, सुपरवाईजर, फोरमेन, शिफ्ट इंचार्ज भी महिला कर्मचारी जरूरी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here