Home विदेश US आर्मी के ड्रोन हमले में अल-कायदा चीफ अयमान अल-जवाहिरी का...

US आर्मी के ड्रोन हमले में अल-कायदा चीफ अयमान अल-जवाहिरी का खात्मा

53
0

वॉशिंगटन

आतंकवाद के खिलाफ जंग में दुनिया को एक और सफलता मिलती नजर आ रही है। खबर है कि अमेरिका की तरफ से किए गए ड्रोन हमले में अल कायदा के प्रमुख अयमान अल-जवाहिरी की मौत हो गई है। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने इस बात की जानकारी दी। खास बात है कि साल 2011 में ओसामा बिन लादेन के खात्मे के बाद इसे बड़ी सफलता के तौर पर देखा जा रहा है।

 अमेरिका ने अफगानिस्तान के काबुल स्थित अपने घर की बालकनी में खड़े Al-Zawahiri पर ड्रोन से हमला किया और मार गिराया। हमले में किसी नागरिक की मौत नहीं हुई है। घर को कुछ नुकसान पहुंचा है। हमले के वक्त Al-Zawahiri के परिवार भी घर में मौजूद था। ओसामा बिन लादेन के खात्मे के लिए अमेरिकी कमांडो को पाकिस्तान की जमीं पर उतरना पड़ा था, लेकिन Al-Zawahiri के मामले में अलग रणनीति पर काम किया गया। ड्रोन से दो मिसाइलें दागी गईं और अलकायदा सरगना का काम तमाम कर दिया गया।

अमेरिकी राष्ट्रपति ने किया Al-Zawahiri के मारे का ऐलान

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने मीडिया को संबोधित किया और Al-Zawahiri के खिलाफ मिशन को सफलतापूर्वक अंजाम दिए जाने का ऐलान किया। वहीं अमेरिकी अधिकारियों ने नाम न छापने की शर्त पर बोलते हुए कहा कि रविवार को सुबह 6:18 बजे (0148 GMT) अफगान राजधानी काबुल में अमेरिकी ड्रोन हमले के बाद जवाहिरी की मौत हो गई।यह भी कहा जा रहा था कि वह लंबे समय से बीमार है। अब आतंकी नेता की मौत से सवाल उठ रहे हैं कि क्या अगस्त 2021 में काबुल पर तालिबान के नियंत्रण हासिल करने के बाद उसे शरण मिली हुई थी। रिपोर्ट के अनुसार, अधिकारी ने बताया कि तालिबान के अधिकरियों को शहर में उसकी मौजूदगी की जानकारी थी।

ओसामा बिन लादेन (Osama Bin Laden) के पाकिस्तान के एबटाबाद में मारे जाने के बाद जवाहिरी ने इस आतंकी संगठन का सरगना बना था। पिछले कुछ वर्षों में इसके मारे जाने की कई खबरें सामने आई थी। अलकायदा ने हाल ही में यह भी धमकी दी थी कि वह पैगंबर के खिलाफ बोलने वाले हर शख्‍स की हत्‍या कर देगा। जवाहिरी की गाहे-बगाहे कुछ वीडियो हाल के दिनों में सामने आए थे। दुनिया का यह दुर्दांत आतंकवादी अपने संगठन के जरिए दुनिया में आतंकी हमले की साजिश रच रहा था।

भारत को दे चुका था धमकी
जवाहिरी ने कश्मीर पर एक और वीडियो संदेश जारी किया था। इस वीडियो में उसने कहा था कि जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 का हटना मुसलमानों के मुंह पर तमाचा है। जवाहिरी ने इससे पहले कर्नाटक हिजाब विवाद को लेकर भी बयान जारी किया था। जवाहिरी ने कर्नाटक हिजाब विवाद को लेकर जहर उगला था। हिजाब बैन को उत्पीड़न बताते हुए जवाहिरी ने भारतीय मुस्लिमों को इसके खिलाफ आवाज उठाने के लिए उकसाया था। जवाहिरी ने 9 मिनट का वीडियो जारी कर्नाटक की छात्रा मुस्कान खान की तारीफ की है जिसने 'जय श्री राम' का नारा लगाने वाली भीड़ के आगे 'अल्लाहु अकबर' चिल्लाया था। जवाहिरी ने मुस्कान की तारीफ में कविता भी पढ़ी थी।

हिंदुओं को ही बता दिया था आतंकी
अलकायदा ने हिंदुओं को ही आतंकी करार दे दिया था और दावा किया था कि उन्‍होंने भारतीय जमीन पर कब्‍जा कर रखा है। अलकायदा ने चेतावनी दी कि हिंदुओं को उनकी सेना भी बचा नहीं पाएगी। अलकायदा ने दावा किया और उपमहाद्वीप के लोगों को याद दिलाया कि उनके पैगंबर ने पहले ही गजवा-ए-हिंद के बारे में बताया था और भविष्‍यवाणी की थी कि इस जंग में मुसलमानों की जीत होगी। संयुक्‍त राष्‍ट्र ने अपनी ताजा रिपोर्ट में चेतावनी दी थी कि इस आतंकी संगठन ने अपनी मैगजीन का नाम 'नवा-ए-अफगान जिहाज' से बदलकर नवा-ए-गजवा-ए-हिंद कर दिया है। ऐसी परिस्थिति में यह आतंकी गुट भारत में अपनी सक्रियता बढ़ाने जा रहा है। एक्यूआईएस अपना ध्यान एक बार फिर अफगानिस्तान से कश्मीर की ओर केंद्रित कर रहा है।

अमेरिका ने किया खत्म
अमेरिका में 9/11 हमले के मुख्य साजिशकर्ताओं में शामिल अलकायदा सरगना अयमान अल जवाहिरी को ड्रोन हमले से ढेर कर दिया। अमेरिका इस आतंकवादी को पिछले 22 सालों से पूरी दुनिया में ढूंढ रहा था। अफगानिस्तान में सुबह सवा 6 बजे अलकायदा सरगना को ढेर कर दिया गया।

Previous articleसड़कों और इससे जुड़ी अधो-संरचनाओं में आधुनिक तकनीक का किया जाए भरपूर उपयोग – केन्द्रीय मंत्री गडकरी
Next articleविंडीज के हाथो भारत की 5 विकेट से करारी हारी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here