Home छत्तीसगढ़ ई-जनचौपाल के माध्यम से जन समस्याओं का निराकरण, प्राप्त हुए 85 आवेदन

ई-जनचौपाल के माध्यम से जन समस्याओं का निराकरण, प्राप्त हुए 85 आवेदन

43
0

कांकेर
कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला के निदेर्षानुसार जिले में शुरू की गई ई-जनचौपाल से लोगों की राह आसान हुई है। आम जनता को अपनी समस्या, षिकायत संबंधी आवेदन जिला प्रषासन तक पहुंचाने के लिए अब उन्हें जिला मुख्यालय तक आने की आवष्यकता नहीं रह गई है। कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला द्वारा प्रत्येक सोमवार को प्रात: 11 बजे से ई-जनचौपाल के माध्यम से ग्रामीणों की समस्या सुनी जा रही है, जिसका अच्छा प्रतिफल मिलने लगा है। ग्रामीण अपने क्षेत्र के जनपद कार्यालय में प्रत्येक सोमवार को प्रात: 10 बजे उपस्थित होकर आवेदन प्रस्तुत करते हैं, जिसे स्कैन कर तत्काल जिला कार्यालय को प्रस्तुत किया जाता है, साथ ही आवेदक वीडियो कान्फ्रेसिंग के जरिये कलेक्टर से बात कर अपनी समस्या से अवगत कराते हैं, जिनका फौरन निराकरण भी हो रहा है।

कलेक्टर कार्यालय में सोमवार को आयोजित ई-जनचौपाल में 85 आवेदन प्राप्त हुए, जिनके निराकरण के लिए कलेक्टर द्वारा संबंधित विभागीय अधिकारियों एवं सभी अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) को निर्देषित किया गया है। ई-जनचौपाल में अंतागढ़ विकासखण्ड के 13 आवेदन, भानुप्रतापपुर से 08, चारामा विकासखण्ड से 13, दुगूर्कोंदल विकासखण्ड से 08, पखांजूर से 02 और नरहरपुर विकासखण्ड से 05 आवेदकों ने जनपद पंचायत स्थित वीडियो कान्फ्रेसिंग के जरिये कलेक्टर को अपनी समस्या बताई। इसके अलावा जिला कार्यालय में उपस्थित होकर 36 आवेदकों द्वारा ई-जनचौपाल में कलेक्टर से प्रत्यक्ष भेंट कर अपनी समस्या से अवगत कराया गया, जिनका त्वरित निराकरण करने के लिए संबंधित विभागीय अधिकारियों को निर्देष दिये गये हैं।

ग्राम चिल्हाटी तहसील भानुप्रतापपुर निवासी कुमारी भानुप्रिया साहू पिता रोहित कुमार साहू ने आज ई-जनचौपाल में कलेक्टर से मुलाकात कर अपनी समस्या बताते हुए कहा कि अपनी मॉ के देहांत होने के बाद वह अपने नाना-नानी के साथ धमतरी में रह रही थी, लेकिन अब अपने पिता के साथ ग्राम चिल्हाटी तहसील भानुप्रतापपुर में रह रही है तथा आगे पढ़ाई करना  चाहती है, लेकिन अंकसूची एवं आधार कार्ड को उनके नाना-नानी द्वारा नहीं दिया जा रहा है। कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला ने उनकी समस्या को सुनकर जिला षिक्षा अधिकारी को निर्देषित करते हुए भानुप्रिया को उनकी पात्रता के अनुसार स्कूल में दाखिला दिलाने तथा ई-डिस्ट्रिक्ट मैनेजर को भानुप्रिया का आधार कार्ड की प्रतिलिपि दिलवाने के लिए निर्देषित किया गया, जिस पर उनके द्वारा तत्काल अमल किया जाकर भानुप्रिया के आधार कार्ड की प्रतिलिपि निकलवाकर उसे उपलब्ध करा दिया गया। आधार कार्ड मिलने पर खुष होते हुए भानुप्रिया ने जिला प्रषासन के प्रति आभार व्यक्त किया है।

Previous articleओबेड मैकॉय का खास SIX, भारत के खिलाफ ऐसा करने वाले बने पहले क्रिकेटर
Next articleपात्रा चॉल की दर्दभरी कहानियां, कहीं गहने गिरवी, किसी ने घर की आस में ली अंतिम सांस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here