छत्तीसगढ़ रायपुर

शेर को लेने सफारी पहुंची सूरत की टीम, बदले में लाया जाएगा ऊदबिलाव

रायपुर
जंगल सफारी के शेर के जोड़े की दहाड़ अब सूरत के जंगलों में सुनाई देगी। शेर को ले जाने के लिए सूरत की स्वास्थ्य विभाग का एक दल बुधवार को रायपुर पहुंच गया है। टीम शेर के स्वास्थ्य का परीक्षण करेगी उसके बाद उसे सड़क मार्ग से सूरत ले जाया जाएगा। वहीं, दूसरी तरफ शेर के बदले में सूरत से ऊदबिलाव लाने की तैयारी की जा रही है। प्रदेश के किसी भी चिडि?ाघर में अभी तक ऊदबिलाव नहीं हैं। हालांकि, गरियाबंद जिले के उदंती के जंगल में ऊदबिलाव होने का दावा वन विभाग के अफसर कर रहे हैं।

जंगल सफारी के एसडीओ विनोद कुमार सिंह ने बताया कि जंगल सफारी से शेर का जोड़ा सूरत के चिडि?ाघर में ले जाने के लिए टीम आ गई है। इसी टीम के साथ जंगल सफारी की टीम भी सूरत के लिए रवाना होगी। शेर के जोड़े के बदले सूरत से यहां ऊदबिलाव को लाया जाएगा। छत्तीसगढ़ के जंगल सफारी, भिलाई और बिलासपुर स्थित जू में फिलहाल ऊदबिलाव नहीं हैं। उदविलाव के आने से पर्यटकों की संख्या में भी काफी इजाफा होगा। उन्होंने बताया कि इससे पहले जंगल सफारी से दो लोमड़ी और चिडि?ा आदि मैसूर जू को भेजा गई थी। इसके बदले यहां बायसन और भेडि?ा का जोड़ा लाना था।

मगर, कोरोना संक्रमण के चलते मार्च में लाकडाउन घोषित कर दिया गया था, जिसकी वजह से मामला लटक गया। अब अनलाक होने के बाद वन विभाग की टीम एक टीम जल्द ही मैसूर जाकर बायसन व भेडि?ा का जोड़ा लेकर यहां आएगी। नवंबर के अंत तक उदविलाव, बायसन और भेडि?ा के जोड़े जंगल सफारी की शोभा बढ़ाएंगे। इन्हें देखने के लिए लोगों की भीड़ के आने की उम्मीद की जा रही है।