उत्तर प्रदेशराज्य

1.5 करोड़ सैंपल्स की टेस्टिंग करने वाला देश का पहला राज्य बना उत्तर प्रदेश

लखनऊ
उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने कोरोना काल के दौरान प्रदेश में अब डेढ़ करोड़ टेस्ट पूरे करने का लक्ष्य हासिल कर लिया है। इस आंकड़े के साथ यूपी देश का पहला ऐसा राज्य बन गया है, जहां इतने बड़े पैमाने पर कोरोना की जांच की गई है। यूपी में हर रोज करीब डेढ़ लाख टेस्ट किए जा रहे हैं। वहीं कुल टेस्ट की संख्या पर गौर करें तो रविवार सुबह तक कुल 1 करोड़ 50 लाख 15 हजार से अधिक टेस्ट किए जा चुके हैं। यूपी सरकार के स्वास्थ्य विभाग ने इन आंकड़ों की पुष्टि की है। स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक, यूपी में अब तक कोरोना के 1 करोड़ 50 लाख 15 हजार 118 टेस्ट किए गए हैं। इन टेस्ट्स में से कुल 4 लाख 83 हजार 832 सैंपल पॉजिटिव मिले हैं। बीते 24 घंटे में कुल 1.51 लाख सैंपल्स की जांच की गई है।

24 घंटे में मिले इतने मरीज
उत्तर प्रदेश में बीते 24 घंटे में कोविड-19 संक्रमण के 1989 नए मामले सामने आए हैं। कोविड-19 संक्रमण से राज्‍य में पिछले 24 घंटे में 26 और लोगों की मौत होने के साथ ही राज्य में मृतक संख्‍या बढ़कर 7051 हो गई है। स्वास्थ्य विभाग ने अपने बयान में कहा है कि नए मामलों के साथ संक्रमितों की संख्या बढ़कर 4,83,832 हो गई है। वहीं बीते 24 घंटे में 2390 मरीजों को ठीक होने के बाद छुट्टी दी गई। स्‍वास्‍थ्‍य बुलेटिन के मुताबिक अब तक 4,53,458 मरीज उपचार से ठीक हो चुके हैं और राज्‍य में मौजूदा समय में ऐक्टिव केसों की संख्या 23,323 है।

कोरोना मामले घटे, पर रहना होगा सतर्क: सहगल
सूचना विभाग के अपर मुख्य सचिव नवनीत सहगल ने कहा कि राज्य में कोरोना के मामलों में तेजी से गिरावट देखने को मिली है। उन्होंने कहा कि ऐसे वक्त में ही हमें ज्यादा सावधानी बरतने की जरूरत है, जिससे कि महामारी का प्रसार रोका जा सके। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में सर्दियों के मौसम में लोगों को थोड़ी सी अधिक सावधानी बरतने की आवश्यकता है।

धान खरीद के 72 घंटे के भीतर हो जाए भुगतान: CM
सहगल ने कहा कि प्रदेश में आर्थिक गतिविधियों में तेजी लाने के लिए सरकार के स्तर पर हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। इसके अलावा लोगों को रोजगार देने की भी हर संभव कोशिश की जा रही है। इस क्रम में आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत 4.35 लाख औद्योगिक इकाईयों को करीब 10 हजार 700 करोड़ रुपये की मदद दी गई है। सहगल ने कहा कि सीएम योगी की ओर से प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों को धान की खरीद में पारदर्शी व्यवस्था बनाने के लिए कहा गया है। सीएम ने निर्देश दिए हैं कि धान के मूल्य का भुगतान 72 घंटे के भीतर किसानों को कर दिया जाए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button