उत्तर प्रदेशराज्य

हाथरस केस : MP से आई ‘घूंघट वाली भाभी’ की मौजूदगी के मायने भी तलाश रही CBI

 हाथरस 
हाथरस केस में पीड़ित परिवार के साथ तीन दिन तक रहने वाली एक महिला के बारे में भी सीबीआई पूछताछ कर रही है। उस महिला की मौजूदगी के मायने भी तलाशे जा रहे हैं। शनिवार को सीबीआई ने परिवारवालों से पूछताछ के दौरान मध्य प्रदेश से आकर पीड़ित परिवार के  साथ रहने वाली महिला के बारे में भी जानकारी ली। 29 सितंबर को पीड़िता की मौत के बाद पीड़ित परिवार के घर पर उनके रिश्तेदारों का आना शुरू हो गया था। 29 तारीख की आधी रात को शव पहुंचा था, लेकिन सुबह मौत की खबर मिलने  के बाद से ही तमाम रिश्तेदार गांव बूलगढ़ी पहुंचने लगे थे। देश के कई हिस्सों से राजनीतिक, सामाजिक दल के लोग भी पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे। इस बीच चार अक्तूबर से एक महिला इस पीड़ित परिवार के साथ दिखाई देने लगी। वामपंथी नेताओं का दल आने पर उनसे इसी महिला ने तीखे शब्दों में बात की थी। यूपी सफाई कर्मचारी आयोग के अध्यक्ष व अन्य नेताओं के आने पर भी इस महिला ने रात में शव जलाने पर तीखा आक्रोश व्यक्त किया था।

उसने पीड़िता के पिता के पास खड़े होकर यह भी कहा था कि उसका इस परिवार से खून का रिश्ता नहीं, लेकिन मानवता के नाते वह आई हैं। इस महिला को लेकर खूब चर्चा हुई। उसके जाते ही एक और नई चर्चा उड़ी।  इस महिला का नक्सली कनेक्शन बताया गया। जांच एजेंसियों के भी यह सुनकर कान खड़े हो गए थे। बाद में इस महिला के मध्य प्रदेश निवासी होने की जानकारी हुई। महिला से जुड़ी कई अन्य बातें भी सामने आ गईं। महिला की भूमिका को लेकर जो सवाल खड़े हुए कहीं न कहीं सीबीआई उनका भी जवाब चाहती है। इस महिला को आखिर किसने बुलाया। और किस किस के संपर्क में महिला थी। ऐसे कईसवाल सीबीआई ने पीड़ित परिवार से किए। पीड़िता की भाभी ने बताया कि उनसे उनकी रिश्तेदार दीदी के बारे में सीबीआई ने जानकारी की। उनसे रिश्ते के बारे में जानकारी ली।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close