छत्तीसगढ़राज्य

स्वयंसेवी संगठनों और नागरिकों की सहायता से जरूरतमंदों को मिला दो वक्त का भोजन

रायपुर
तेजी से बढ़ रहे हैं कोरोना वायरस की रफ्तार को काबू में रखने और नागरिकों को कोरोना से बचाने की दृष्टि से रायपुर जिले में लॉकडाउन लगाया गया है। ऐसे विकट- विषम समय में ऐसे भी अनेक परिवार और नागरिक है, जिन्हें अपने लिए दो वक्त की रोटी का इंतजाम करना कठिन था,  आर्थिक तंगी होने के साथ-साथ उनके पास राशन की भी कमी थी , ऐसे  जरूरतमंद नागरिकों और परिवारों को सहायता करने के लिए रायपुर के स्वयंसेवी संगठनों और नागरिकों का उत्कृष्ट जज्बा और प्रयास देखने को मिल रहा है।

लॉक डाउन लगने के बाद 10 अप्रैल से अभी तक करीब एक लाख 34 हजार लोगों को भोजन के पैकेट उपलब्ध कराएं  है। यह सिलसिला लगातार जारी है और स्वयंसेवी संगठनों ने प्रतिदिन 10 हजार भोजन पैकेट वितरण की व्यवस्था करने का बीड़ा उठाया है। राधा स्वामी सत्संग व्यास, शिव शक्ति (चंद्रभान), महाराष्ट्र मंडल, मानव कल्याण परिषद ,कुछ फर्ज हमारा भी ,चरामेती फाउंडेशन, संत निरंकारी, स्टूडेंट सपोर्ट एवं वेलफेयर एसोसिएशन, श्री राजकमल तेजवानी ऐसे ही इस स्वयंसेवी संगठन और नागरिक है  जिनके उनके द्वारा सहदयता से दिए जा रहे उदारतापूर्वक सहयोग ने अभी तक जिले के लाखों भूखे पेट को तृप्त किया है।

इसी तरह स्वयंसेवी संगठन बढ़ते कदम ने आइसोलेशन के मरीजों के घर तक भोजन पहुंचाने की व्यवस्था का जिम्मा उठाया है। कलेक्टर रायपुर डॉ एस भारतीदासन के निर्देशन तथा जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ गौरव कुमार सिंह नोडल अधिकारी और नगर निगम के आयुक्त श्री सौरभ कुमार के द्वारा रायपुर के बूढ़ा तालाब के सामने स्टेडियम में जिला प्रशासन, नगर निगम और रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड के सहयोग से इस आपातकालीन भोजन वितरण व्यवस्था को मूर्तरूप दिया गया है। कोई भी व्यक्ति या नागरिक जिसे इस आड़े वक्त भोजन की आवश्यकता हो वे जिला कंट्रोल रूम के फोन नंबर पर 0771- 4055574 पर संपर्क कर सकते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button