बिज़नेस

स्पाइस हेल्थ करेगी मेले में आने वाले यात्रियों की जांच,सरकार से करार

हरिद्वार

एविएशन कंपनी स्पाइस जेट की हेल्थकेयर शाखा 'स्पाइस हेल्थ' ने आगामी कुंभ मेले के मद्देनजर तीर्थयात्रियों के रैपिड एंटीजन टेस्ट और RT-PCR के लिए उत्तराखंड सरकार के साथ एक मेमोरेंडम साइन किया है. महामारी को देखते हुए कुंभ मेले के अधिकारियों ने सख्त गाइडलाइंस जारी की है और सभी तीर्थयात्रियों के लिए पास अनिवार्य किए हैं. नेगेटिवट RT-PCR टेस्ट रिपोर्ट, मेडिकल सर्टिफिकेट और आइडेंटिफिकेशन प्रूफ के आधार पर ही यात्रियों को पास मुहैया कराए जाएंगे.

सूत्रों के मुताबिक, नेशनल एक्रेडिटेशन बोर्ड फॉर टेस्टिंग एंड कैलिब्रेशन लेबोरेटरीज (NABL) और इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) द्वारा मान्यता प्राप्त मोबाइल लैब की स्थापना भी हरिद्वार में कर दी गई है. राज्य की 5 अलग-अलग सीमाओं पर रैपिड एंटीजन टेस्ट की सुविधा का इंतजाम किया जा चुका है. कंपनी का कहना है कि 26 फरवरी से टेस्टिंग सुविधाओं पर काम शुरू हो जाएगा.

कुंभ मेले में हर बार लाखों की संख्या में दुनियाभर से लोग शिरकत करते हैं. ये धार्मिक मेला हर चार वर्ष में बारी-बारी से गंगा नदी (हरिद्वार), शिप्रा नदी (उज्जैन), गोदावरी (नासिक) और गंगा, यमुना और सरस्वती के संगत तट प्रयागराज में मनाया जाता है.

स्पाइस हेल्थ की सीईओ अवनी सिंह ने कहा, 'कुंभ दुनिया के सबसे बड़े धार्मिक मेलों में से एक है, जहां हर दिन लाखों श्रद्धालु एक राज्य की सीमा में दाखिल होते हैं. मेले में आने वाले तीर्थयात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित करना अत्यंत महत्वपूर्ण है और हम उत्तराखंड सरकार के साथ मिलकर ये जिम्मेदारी उठाने पर गर्व महसूस कर रहे हैं. हम राज्य में अपनी मल्टीपल टेस्टिंग फैसिलिटी के माध्यम से जल्द और बिना किसी जोखिम बेहतर सेवाएं देने के लिए प्रतिबद्ध हैं.'

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button