मध्य प्रदेशराज्य

स्ट्रांग रूम में कैद ईवीएम, केंद्रीय बल रखेगा नजर

भोपाल
प्रदेश के 28 विधानसभा क्षेत्रों में मतदान के बाद सभी स्थानों पर इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीनें स्ट्रांग रूम में कड़ी सुरक्षा के बीच जमा कर दी गई है। सभी स्थानों पर सीसीटीवी कैमरों से ईवीएम की निगरानी की जाएगी। स्ट्रांग रूम के अंदर केन्द्रीय बल तैनात किया गया है। अब दस नवंबर को मतगणना होना है तब तक ये ईवीएम स्ट्रांग रूम में कड़ी सुरक्षा के बीच रखी जाएंगी।

सभी 28 विधानसभा क्षेत्रोें में इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीनों पर मतदान कराने के बाद ईवीएम मशीनों को पर्याप्त सुरक्षा के साथ केन्द्रीय सुरक्षा बल और राज्य के सुरक्षा बलों की मौजूदगी में देर रात तक स्ट्रांग रूम में जमा कराया गया।  सभी स्ट्रांग रूम में केन्द्रीय बलों की तैनाती की गई है। केन्द्रीय बल स्ट्रांग रूम के अंदर ईवीएम के साथ तैनात रहेगा और बाहर राज्य के पुलिस बल, होमगार्ड की तैनाती की गई है। सभी स्ट्रांग रूम में अंदर और बाहर मुख्य द्वार पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए है। जिनकी लगातार रिकार्डिंग की जाएगी। जिला कलेक्टर सभी स्थानों पर पुलिस और प्रशासन के साथ रोजाना स्ट्रांग रूम में व्यवस्थाओं का निरीक्षण करेंगे। स्ट्रांग रूम के मुख्य द्वार के बाहर राजनीतिक दलों के प्रतिनिधि भी ईवीएम की सुरक्षा के लिए तैनात किए जाएंगे। लेकिन इन्हें स्ट्रांग रूम के बाहर दरवाजे के बाहर ही रखा जाएगा। किसी भी प्रकार की गड़बड़ी होने पर राजनीतिक दल के उम्मीदवारों के प्रतिनिधि भी इसकी शिकायत सीधे आयोग को भी कर सकेंगे।

इस बार दस नवंबर को सभी विधानसभा क्षेत्रों में डाले गए मतों की गणना की जाएगी। मतगणना के लिए हर बार चौदह टेबल एक हाल पर लगाई जाती थी इस बार कोरोना के चलते केवल सात टेबल एक हाल में लगाई जाएंगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close