राजनीति

सुरजेवाला ने कहा- सरकार के इशारे पर हुई गोलीबारी, मुंगेर हिंसा पर कांग्रेस ने नीतीश सरकार को घेरा

नई दिल्ली 
 बिहार विधानसभा चुनावों के बीच मुंगेर शहर में अशांति फैल गई. गुरुवार को शहर में फिर से हिंसक घटना हुई. नाराज लोगों ने आगजनी भी की. जानकारी के मुताबिक गुस्साए लोगों ने पहले पुलिस अधीक्षक कार्यालय में प्रदर्शन किया. इसके बाद पूरब सराय थाने में आग लगा दी. जिसके बाद डीआईजी मनु महाराज ने खुद शहर में मोर्चा संभाला. इस बीच कांग्रेस ने मुंगेर में फिर भड़की हिंसा पर नीतीश सरकार पर निशाना साधा है. कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि यह स्पष्ट है कि नीतीश और सुशील मोदी सरकार के इशारे पर गोलीबारी की घटना हुई थी. अब 72 घंटे बाद मुंगेर एक बार फिर जल रहा है. क्या अब प्रधानमंत्री इस ओर ध्यान देंगे. इसके साथ ही कांग्रेस प्रवक्ता ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में पीएम मोदी से पांच सवाल भी पूछे.

– निर्दोषों पर फायरिंग के लिए कौन जिम्मेदार है
– लाठीचार्ज के लिए कौन जिम्मेदार है
– फायरिंग में युवा की हत्या के लिए कौन जिम्मेदार है
– डीएम और एसपी को बचाने के लिए कौन जिम्मेदार है
– मुंगेर में जंगलराज के लिए कौन जिम्मेदार है
 
सुरजेवाला ने आगे कहा कि जब तक पीड़ितों के साथ न्याय नहीं किया जाता है और जिम्मेदार लोगों को सजा नहीं दी जाती है, तब तक लोगों को राहत नहीं मिलेगी. केंद्र में एनडीए की सरकार है, राज्य में भी एनडीए की सरकार है; मुंगेर के एसपी और डीएम आपके हैं, फिर वे कैसे साजिश का आरोप लगा सकते हैं? सुरजेवाला ने अपना हमला जारी रखते हुए कहा कि एसपी, डीएम का तबादला पर्याप्त नहीं होगा, न्याय होना चाहिए. जिस तरह से अमानवीय व्यवहार भक्तों पर किया गया है. हम उसके न्याय के लिए अपना विरोध जारी रखेंगे.

चुनाव आयोग की कार्रवाई पर बात करते हुए सुरजेवाला ने कहा कि नीतीश कुमार कार्यवाहक सीएम और सुशील मोदी कार्यवाहक उपमुख्यमंत्री के रूप में हैं, कानून-व्यवस्था सरकार की जिम्मेदारी है, चुनाव आयोग चुनाव प्रबंधन के लिए जिम्मेदार है, एसपी और डीएम का स्थानांतरण केवल खानापूर्ति है. अंत में सुरजेवाला ने तंज कसते हुए कहा, "जब अपने भये कोतवाल तो डर काहे का".

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button