मध्य प्रदेशराज्य

सीएम ने कहा- प्रत्येक किसान को अब प्रति वर्ष मिलेंगे 10 हजार रुपये

श्योपुर
प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज यानि 9 नवंबर को श्योपुर जिले के आदिवासी विकास खंड कराहल के बरगवां में सहरिया चौपाल में आए है। सीएम वनाचंल स्थित बरगवा में आयोजित सहरिया चौपाल पर सहरिया परिवारों और आजीविका मिशन के माध्यम से गठित किए गए स्वसहायता समूहों की सहरिया परिवार की महिलाओं के साथ उनके जीवन मूल्यों, जीवनशैली, खानपान, रहन-सहन सहित विभिन्न विषयों पर चर्चा की।

मुख्यमंत्री ने स्वसहायता समूहों की सहरिया परिवार की महिलाओं से चर्चा करते हुए कहा कि भगवान बिरसा मुंडा का 15 नवंबर को जन्मदिन है, उन्होंने आदिवासी अस्मिता के लिए अंग्रेजों से लोहा लिया था। उनके जन्मदिन को आदिवासी गौरव दिवस के रूप में मनाया जायेगा। वही इस बीच कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस ने गरीबों और आदिवासी भाई-बहनों के कल्याण की सभी योजनाओं को बंद कर दिया था, मैंने फिर से संबल योजना प्रारम्भ कर दी है। बेटे-बेटियों की उच्च शिक्षा की फीस भरेंगे और बेटियों का विवाह भी धूमधाम से करेंगे।
स्वसहायता समूह की हमारी बहनें उत्कृष्ट कार्य कर रही हैं। अब स्कूल यूनिफार्म भी कोई ठेकेदार नहीं, बल्कि हमारी स्वसहायता समूहों की ही बहनें तैयार करेंगी।

बता दें कि आगे शिवराज ने कई विषयों पर चर्चा की और कहा कि 15 अगस्त 2020 तक आदिवासी भाई-बहनों ने ऊंची ब्याज दरों पर सूदखोरों से जो कर्ज लिये हैं, कानून बनाकर मैंने उसे माफ कर दिया है। आगे किसानों को बड़ी राहत दी है, कहा कि किसान सम्मान निधि में अब मुख्यमंत्री किसान कल्याण निधि की 4 हजार रुपये राशि जोड़कर दी जायेगी। मध्यप्रदेश के प्रत्येक किसान को अब प्रति वर्ष दस हजार रुपये मिलेंगे, वही मध्यप्रदेश के प्रत्येक गरीब नागरिक को सस्ती दरों पर राशन प्रदान किया जा रहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button