बिज़नेस

सऊदी अरब का PIF करेगा निवेश, रिलायंस रिटेल में 9,555 करोड़ का निवेश 

 
नई दिल्ली 

मुकेश अंबानी की अगुवाई वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज की रिटेल ईकाई को अब 9,555 करोड़ रुपये का निवेश मिलने जा रहा है. सऊदी अरब के पब्लिक इनवेस्टमेंट फंड (PIF) ने इसमें करीब 2 फीसदी की हिस्सेदारी लेने के लिए यह निवेश करने का ऐलान किया है. इस तरह रिलायंस रिटेल ने पिछले दो माह में 47,265 करोड़ रुपये की निवेश पूंजी जुटा ली है. कंपनी की ओर से गुरुवार को जारी बयान में कहा गया है कि पीआईएफ 9,555 करोड़ रुपये के निवेश से रिलायंस रिटेल वेंचर्स लि. (RRVL) में 2.04 फीसदी हिस्सेदारी लेगा. पीआईएफ के इस निवेश से आरआरवीएल का मूल्यांकन करीब 4.58 लाख करोड़ रुपये होता है. पिछले निवेशों की तुलना में यह प्री-मनी इक्विटी करीब 30 हजार करोड़ अधिक है. गौरतलब है कि इसके पहले इसी PIF ने रिलायंस समूह की एक और कंपनी जियो प्लेटफॉर्म्स में 2.32 फीसदी की हिस्सेदारी लेने के लिए 11,367 करोड़ रुपये का निवेश किया था. 

47 हजार करोड़ से ज्यादा का निवेश 

रिलायंस रिटेल में निवेश का सिलसिला इस साल 9 सितंबर को सिल्वर लेक से शुरू हुआ था, उसके बाद केकेआर, जनरल अंटलांटिक, मुबाडला, जीआईसी, टीपीजी और एडीआईए जैसे वैश्विक निवेश फंड इंवेस्टमेंट कर चुके हैं. पीआईएफ की डील को मिला कर अब तक 9 इनवेस्टमेंट के जरिए रिलायंस रिटेल में 10% से अधिक की इक्विटी के लिए 47,265 हजार करोड़ से अधिक का निवेश हो चुका है. 
 
बढ़ता जा रहा कारोबार

गौरतलब है कि रिलायंस रिटेल लिमिटेड के देश भर मे फैले 12 हजार से ज्यादा स्टोर्स में सालाना करीब 64 करोड़ खरीदार आते हैं. रिलायंस इंडस्ट्रीज की सब्सिडियरी कंपनी रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (RRVL) फ्यूचर ग्रुप की रिटेल एंड होलसेल बिजनेस और लॉजिस्टिक्स एंड वेयरहाउसिंग बिजनेस का अधिग्रहण करने का ऐलान किया है. हालांकि इस डील में अभी एमेजॉन ने अड़ंगा लगा दिया है और मामला कोर्ट में पहुंच गया है.

क्या कहा मुकेश अंबानी ने 

रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी ने कहा, 'सऊदी अरब के साथ लंबे समय से हमारे संबंध हैं. पीआईएफ सऊदी अरब के आर्थिक विकास में अहम किरदार निभा रहा है. मैं रिलायंस रिटेल में एक महत्वपूर्ण भागीदार के रूप में पीआईएफ का स्वागत करता हूं. हम 130 करोड़ भारतीयों और लाखों छोटे व्यापारियों के जीवन को समृद्ध करने और रिटेल सेक्टर को बदलने की हमारी महत्वकांक्षी योजना के लिए पीआईएफ के निरंतर समर्थन की आशा  करते हैं.' 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button