मध्य प्रदेशराज्य

शिवराज ने बंगाल में दिया नया नारा- 2 मई को दीदी तो गई…

भोपाल
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज ने पश्चिम बंगाल में चुनाव प्रचार शुरू कर दिया है. कोलकाता पहुंचे शिवराज ने कालीघाट मंदिर से चुनाव प्रचार का आगाज किया. उन्होंने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर हमला बोला. उन्होंने कहा- ममता दीदी ने किसान सम्मान निधि का लाभ किसानों को नहीं दिया. आयुष्मान योजना लागू नहीं की और गरीबों को धोखा दिया. इस दौरान मुख्यमंत्री ने चुनाव में नया नारा दिया – ‘2 मई को दीदी तो गई…’

बंगाल जाने से पहले शिवराज भोपाल में भी ममता बनर्जी पर जमकर बरसे थे. उन्होंने वहां BJP की सरकार बनने का दावा किया. उन्होंने ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए कहा कि बंगाल में अनेकों बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्या की गई. इनका बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा. इस बार ममता बनर्जी की सरकार को उखाड़ फेंकगे. जनता बीजेपी के साथ है.

शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मैं पश्चिम बंगाल जा रहा हूं. परिवर्तन रैली के दौरान मेरी तीन सभाएं हैं. बहुत संघर्ष का चुनाव है. चुनाव का बिगुल बज गया है. बीजेपी की आंधी चल रही. ममता दीदी बौखलाई हैं, घबराई हुई हैं इसलिए परिवर्तन रैलियों पर हमले किए जा रहे हैं. ममता दीदी के कुशासन के खिलाफ, गुंडागर्दी के खिलाफ, भ्रष्टाचार के खिलाफ और लूट के खिलाफ पश्चिम बंगाल उठकर खड़ा होगा.

चुनाव आयोग द्वारा तारीखों की घोषणा कर दी गई है. गौरतलब है कि 294 सीटों वाली विधानसभा के लिए वोटिंग 27 मार्च (30 सीट), 1 अप्रैल (30 सीट), 6 अप्रैल (31 सीट), 10 अप्रैल (44 सीट), 17 अप्रैल (45 सीट), 22 अप्रैल (43 सीट), 26 अप्रैल (36 सीट), 29 अप्रैल (35 सीट) को होगी. पश्चिम बंगाल में भी काउंटिंग 2 मई को की जाएगी.

चुनाव आयोग की घोषणा के तुरंत बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सवाल उठाए हैं. उन्होंने पूछा है कि 8 चरणों में चुनाव किसको फायदा पहुंचाने के लिए रखा गया है. याद दिला दें साल 2011 में तृणमूल कांग्रेस ने पश्चिम बंगाल की राजनीति में इतिहास रच दिया था. ममता बनर्जी के नेतृत्व में पार्टी ने 34 साल बाद लेफ्ट की सरकार को उखाड़ फेंका. इसके बाद से लेकर अब तक ममता लगातार दो बार बंगाल की मुख्यमंत्री बन चुकी हैं. ऐसे में सवाल उठता है कि क्या दीदी इस बार जीत की हैट्रिक लगाएंगी या फिर बंगाल में भगवा लहराएगा.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button