छत्तीसगढ़राज्य

शादी का झांसा देकर 24 लाख की ठगी करने वाला नाइजीरियाई नोएडा से गिरफ्तार

बैकुंठपुर
जीवन साथी डॉट कॉम वेबसाईट में फर्जी आईडी बनाकर शादी का झांसा देने के नाम पर बैकुंठपुर की युवती से 24 लाख रुपये ठगी करने वाले नाइजीरियाई युवक को कोरिया पुलिस ने छापा मारकर टावर नं. केएम 21 फ्लैट नं 204 जेपी कोसमोस सेक्टर 134 नोएडा से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने उसके पास से दो पासपोर्ट बरामद किया है जिसमें एक फर्जी निकला। नाइजीरियाई युवक ने अन्य राज्यों के लोगों से भी डॉक्टर, इंजीनियर, बिजनसमैन बनकर ठगी कर कुछ रकम अपने पास रखकर बाकी रकम को नाइजीरियाई भेज देता था।

कोरिया पुलिस एसपी चंद्रमोहन सिंह ने गुरुवार को मीडिया के सामने नाईजीरियाई युवक को पेश करते हुए पत्रकारों से चर्चा करते हुए बताया कि आरोपी एजिथे पिटर चिनाका (30 वर्ष) निवासी 17 सेटेलाईट न्यू टॉउन लागोस नाइजीरिया जिसे कोरिया पुलिस ने छापा मारकर टावर नं. केएम 21 फ्लैट नं 204 जेपी कोसमोस सेक्टर 134 नोएडा से गिरफ्तार किया। बैकुंठपुर पुलिस ने युवती की शिकायत पर धारा 419,420 का मुकदमा कायम किया कि इसकी छोटी बहन के साथ उक्त आरोपी रोहन मिश्रा के नाम से फर्जी एनआरआई बनकर जीवन साथी डॉट कॉम वेबसाईट के माध्यम से शादी करने का झांसा देकर एवं अपनी संपत्ति भारत में ट्रांसफर कर भारत में सेटल होने के नाम पर कस्टम चार्ज एवं आरबीआई आफिसर, आईएमएफ आॅफिसर इत्यादि के नाम पर पीड़िता से 24,07,500.00 रुपये की ठगी की है। प्रकरण दर्ज कर अज्ञात आरोपी को पकडऩे के लिए पुलिस महानिरीक्षक रतन लाल डांगी सरगुजा रेंज सरगुजा के मार्गदर्शन में अति पुलिस अधीक्षक डॉ. पंकज शुक्ला व उप पुलिस अधीक्षक धीरेन्द्र पटेल के नेतृत्व में सायबर टीम कोरिया द्वारा मामले की पतासाजी की जाने लगी। ये टीम राउंड ओ क्लॉक काम कर रही थी। मामले में पूरी टीम बधाई की पात्र है, इन्हें पुरस्कार दिया जाएगा।

उन्होंने बताया कि आरोपी को पकडऩे में जुटी साइबर की टीम ने पाया कि आरोपी के द्वारा वीओआईपी कॉल, इंटरनेट कॉल, वाट्सएप कॉल उपयोग किया गया है। सायबर टीम द्वारा प्रकरण के सभी बिन्दुओं का बारीकी से विश्लेषण कर आरोपी की पहचान करने में सफलता पाई गई। अपराध की विवेचना के दौरान विशेष टीम को दिल्ली, नोएडा रवाना किया गया था। विशेष टीम द्वारा के द्वारा आरोपी के ठिकाने पर दबिश देकर आरोपी को गिरफ्तार किया। पूछताछ में आरोपी द्वारा अन्य राज्यों तेलंगाना, आन्ध्रप्रदेश, झारखण्ड, ओडिशा, हिमाचल प्रदेश इन सभी राज्यों में भी अपने आप को डॉक्टर, इंजीनियर, बिजनसमैन बताये हुये अपने झांसे में लेकर लाखों रुपए की ठगी कर चुका है और कुछ रकम अपने पास रख बाकी शेष रकम को नाइजीरिया ट्रांसफर कर देता था।

पुलिस को आरोपी के पास से 2 नग पासपोर्ट मिला जिसमें एक फर्जी पासपोर्र्ट, 2 नग नाईजीरियन डेबिट कार्ड, 1 नग एसबीआई डेबिट कार्ड, 4 नग मोबाईल हैण्डसेट, 14 नग सीम कार्ड, 1 वाईफाई डिवाइस, 1 नग लैपटॉप जब्त किया गया। आरोपी के पासपोर्ट एवं वीजा का अवलोकन किया गया, जिसकी मियाद समाप्त हो चुकी है। एसपी के मुताबिक मामले में भी धाराएं लगाई गई है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button