राजनीति

लालू का PM मोदी के वार पर पलटवार, बोले- यह डबल नहीं, ट्रबल इंजन है

पटना 
बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में एनडीए के लिए प्रचार करने पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को चार जनसभाओं को संबोधित किया। उनकी पहली सभा आरजेडी चीफ और प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के गढ़ माने जाने वाले छपरा में हुई। यहां पर चुनावी रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने आरजेडी और कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि आज बिहार में एक तरफ डबल इंजन की सरकार है तो दूसरी तरफ डबल-डबल युवराज हैं। उनमें से एक तो जंगलराज के युवराज हैं। पीएम मोदी के इस वार पर पलटवार करते हुए लालू प्रसाद यादव ने कहा है कि यह डबल इंजन नहीं बल्कि ट्रबल इंजन की सरकार है। लालू प्रसाद यादव ने ट्वीट करते हुए पीएम मोदी के बयान पर पलटवार भी किया और साथ ही एक सवाल भी पूछा। लालू ने कहा, 'यह डबल इंजन नहीं, ट्रबल इंजन है। लॉकडाउन में फंसे मजदूरों को वापस लाने के वक्त डबल इंजन कहां था?'

छपरा की रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि आज बिहार के सामने, डबल इंजन की सरकार है, तो दूसरी तरफ डबल-डबल युवराज भी हैं। उनमें से एक तो जंगलराज के युवराज भी हैं। उन्होंने कहा कि डबल इंजन वाली एनडीए सरकार, बिहार के विकास के लिए प्रतिबद्ध है, तो ये डबल-डबल युवराज अपने-अपने सिंहासन को बचाने की लड़ाई लड़ रहे हैं। इसके अलावा उन्होंने परिवारवाद को लेकर भी कांग्रेस और आरजेडी पर निशाना साधा। पीएम ने कहा कि आज देश में एक तरफ लोकतंत्र के लिए पूर्ण रूप से समर्पित एनडीए का गठबंधन है तो दूसरी तरफ अपने निहित स्वार्थ को समर्पित पारिवारिक गठबंधन है। प्रधानमंत्री ने दो-दो युवराज की सज्ञा का इस्तेमाल कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और महागठबंधन से मुख्यमंत्री उम्मीदवार तेजस्वी यादव के लिए किया। वहीं पीएम मोदी की रैली के बाद तेजस्वी यादव ने उन पर ट्वीट कर निशाना साधा और कुछ सवाल पूछे। तेजस्वी ने पूछा कि डबल इंजन सरकार चलते बिहार की बेरोजगारी दर 46 प्रतिशत से अधिक क्यों हैं। उन्होंने ट्वीट किया, 'आदरणीय प्रधानमंत्री जी ने यह नहीं बताया कि डबल इंजन सरकार के चलते बिहार की बेरोजगारी दर 46.6% क्यों है? बिहार के हर दूसरे घर से पलायन क्यों होता है? NCRB के आंकड़ो में बिहार अपराध में अव्वल क्यों है? नीति आयोग के अनुसार शिक्षा स्वास्थ्य क्षेत्रों में बिहार फिसड्डी क्यों है?'

प्रधानमंत्री मोदी ने आज मोतिहारी में भी एक जनसभा को संबोधित किया। पीएम मोदी ने 2015 बिहार चुनाव के समय जनता से कहा था कि मोतिहारी की चीनी मिल को शुरू करा कर आपके साथ चाय पियूंगा। इस वादे को याद दिलाते हुए तेजस्वी ने पीएम मोदी से मोतिहारी के चीनी मिल को लेकर भी सवाल पूछा और ट्वीट किया, 'आदरणीय प्रधानमंत्री जी ने 2014 में मोतिहारी की चुनावी सभा में कहा था कि वो मोतिहारी की बंद चीनी मिल को शुरू करवाकर अगली बार मोतिहारी आगमन पर उसमें बनी चीनी की ही चाय पिएंगे। प्रधानमंत्री जी आज 6 वर्ष बाद मोतिहारी आए लेकिन उस बंद चीनी मिल एवं चाय के बारे में कुछ नहीं बोले?'

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button