राष्ट्रीय

रेलवे ने मुंबई डिविजन में लॉकडाउन के दौरान 19 फुट ओवर ब्रिज बना डाले

मुंबई
पिछले सात महीनों में लगे लॉकडाउन का फायदा उठाकर वेस्‍टर्न रेलवे, सेंट्रल रेलवे और मुंबई रेल विकास कॉर्पोरेशन ने मुंबई डिविजन में 19 फुट ओवर ब्रिज बना डाले। इनमें से 14 फुट ओवर ब्रिज वेस्‍टर्न रेलवे में हैं और बाकी के सेंट्रल रेलवे के तहत। लॉकडाउन में यात्रियों की मामूली संख्‍या की बदौलत ही रेल अधिकारी इतनी तेजी से ये प्रॉजेक्‍ट पूरा कर सके।

अप्रैल 2019 में आईआईटी बॉम्‍बे ने वेस्‍टर्न और सेंट्रल रेलवे क्षेत्रों में 50 फुट ओवर ब्रिज की मरम्‍मत का सुझाव दिया था। आईआईटी की एक रिपोर्ट के अनुसार, अकेले सेंट्रल रेलवे में ही 30 फुटओवर ब्रिज की तुरंत मरम्‍मत की जरूरत थी।

सेंट्रल रेलवे ने अक्‍टूबर में विखरोली, ठाकुरली और डोंबिवली में फुट ओवर ब्रिज खोले हैं। सेंट्रल रेलवे के प्रवक्‍ता का कहना है, 'लॉकडाउन के अवसर का फायदा उठाकर हमने अपने इन्‍फ्रास्‍ट्रक्‍चर के प्रॉजेक्‍ट्स को बेहतर बनाया है।'

आईआईटी बॉम्‍बे की रिपोर्ट ने वेस्‍टर्न रेलवे के 16 ऐसे फुट ओवर ब्रिजों की पहचान की थी जिन्‍हें असुरक्षित करार देते हुए गिराने की सिफारिश की गई थी। इनमें से 13 को गिराया जा चुका है बाकी के तीन ( दादर, अंधेरी और गोरेगांव) को गिराने की प्रक्रिया चल रही है। इस काम को 31 दिसंबर तक पूरा होना है।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close