उत्तर प्रदेशराज्य

राशन कार्ड धारकों को ऐप बताएगा कि डीलर ने राशन कब उठाया

 लखनऊ 
उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने खाद्य एवं रसद विभाग को आवश्यक वस्तुओं के आवंटन, उठान और वितरण में पारदर्शिता पर काम करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि आधुनिक तकनीकी का उपयोग कर अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि लाभार्थियों तक निर्धारित मूल्य पर आवश्यक वस्तुएं पहुंचें। कालाबाजारी ना हो। बहुत जल्द कोटेदार द्वारा राशन उठाए जाने की सूचना मोबाइल ऐप के माध्यम से कार्ड धारकों को मिलने लगेगी।

मुख्य सचिव ने के समक्ष बुधवार को खाद्य एवं रसद विभाग ने आवश्यक वस्तुओं के आवंटन, उठान और वितरण में पारदर्शिता सुनिश्चित कराने की योजनाओं का प्रस्तुतिकरण किया। मुख्य सचिव ने कहा कि आवश्यक वस्तुओं के आवंटन, उठान और वितरण को मोबाइल ऐप के माध्यम से जनपद तथा मुख्यालय स्तर पर रियल टाइम मानीटरिंग की पारदर्शी व्यवस्था से जोड़ा जाए।

मुख्य सचिव ने कहा कि राशन कार्ड धारकों को उचित दर दुकानदार द्वारा राशन उठान की सूचना मोबाइल ऐप के साथ एसएमएस के माध्यम से देने की व्यवस्था की जाए। जिन कार्ड धारकों के पास एंड्राइड मोबाइल उपलब्ध नहीं है उनके लिए इंटरेक्टिव वायस रिस्पांस सिस्टम (आईवीआरएस) या एसएमएस आधारित सुविधा विकसित की जाए। मोबाइल ऐप पर राशन कार्ड धारकों को शिकायत दर्ज करने की सुविधा भी दी जाए।

आपूर्ति मोबाइल एप्लिकेशन विकसित
प्रमुख सचिव खाद्य एवं रसद वीना कुमारी मीना ने बताया कि आपूर्ति मोबाइल एप्लिकेशन विकसित किया गया है। इसके माध्यम से खाद्यान्न वितरण की रियल टाइम इन्फार्मेशन आम लोगों को दी जाएगी। जनपद स्तर पर राशन वितरण की रियल टाइम मानीटरिंग भी की जा सकेगी। ऐप पर लाभार्थियों को कोटदार द्वारा राशन उठान तथा स्टाक संबंधी सूचना भी मिल सकेगी।

लाभार्थी इस ऐप के माध्यम से छह माह में प्राप्त किए गए खाद्यान्न की जानकारी, राशन कार्ड में यूनिट जोड़े जाने तथा हटाये जाने की जानकारी भी हासिल कर सकेंगे। विभागीय अधिकारियों द्वारा उचित दर दुकानों पर किए गए निरीक्षण की रियल टाइम इन्फार्मेशन उच्चाधिकारियों को उपलब्ध कराने के उद्देश्य से इंस्पेक्शन मोबाइल एप्लीकेशन तैयार किया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button