छत्तीसगढ़राज्य

राजभवन एक परिवार है, अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन ईमानदारी और निष्ठा के साथ करें – उइके

रायपुर
राजभवन में राज्यपाल के पूर्व सचिव श्री सोनमणि बोरा और परिसहाय श्री अनंत श्रीवास्तव को स्थानांतरण पर सादे समारोह में भावभीनी विदाई दी गई। राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके ने इस अवसर पर श्री बोरा एवं श्री श्रीवास्तव के उज्ज्वल भविष्य की कामना करते हुए उन्हें नई जिम्मेदारियों के लिए शुभकामनाएं दी।

राज्यपाल ने कहा कि हमारा राजभवन एक परिवार की तरह है। दोनों अधिकारियों ने अपने कार्यकाल के दौरान अपनी जिम्मेदारियों का बखूबी निर्वहन किया। उन्होंने कहा कि यह अवसर बड़ा ही गौरवपूर्ण है। जब कोई जाता है तो दुख होता है साथ ही यह खुशी भी होती है कि नई जिम्मेदारियों के साथ प्रगति कर रहे हैं। सुश्री उइके ने अपने पुराने अनुभव साझा करते हुए कहा कि मुझे अपने जीवन के प्रारंभिक दिनों में नौकरी तथा अन्य कार्यों के लिए बहुत संघर्ष करना पड़ा। उस दौरान कई अनुभव हुए। उनका असर है कि मेरे मन में लोगों की मदद करने की भावना जागी और किसी की मदद करने से जो आनंद मिलता है, वैसा सुख कहीं नहीं मिलता। राज्यपाल ने कहा कि जब भी आपके समक्ष कोई भी किसी समस्या या काम के लिए आए तो उनका यथासंभव मदद करें और जो भी जिम्मेदारी मिले उसे ईमानदारी और निष्ठा के साथ पूरा करें।

राज्यपाल के पूर्व सचिव श्री बोरा ने कहा कि अखिल भारतीय सेवा के अधिकारियों को कई प्रकार की जिम्मेदारियां मिलती है। राजभवन में काम करना उनके लिए एक विशिष्ट अनुभव होता है। श्री बोरा ने कहा कि उन्होंने राज्यपाल के साथ अविस्मरणीय समय बिताए हैं। उनके साथ काफी कुछ सीखने को मिला और उनके अनुभव का लाभ भी मिला। राज्यपाल के पूर्व परिसहाय श्री अनंत श्रीवास्तव ने कहा कि राज्यपाल महोदया के साथ काम करके ऐसा लगा कि हम परिवार के साथ काम कर रहे हैं। पूर्व सचिव श्री बोरा के साथ काम करके यह सीखने को मिला कि समन्वय के साथ तेजी से काम किस प्रकार किया जा सकता है। यह सीख हमारे भविष्य में भी काम आएगी।

राज्यपाल के सचिव श्री अमृत कुमार खलखो ने कहा कि राजभवन में काम करना एक नया अनुभव है। यहां काम करने के दौरान नया सीखने को मिलेगा। हम राज्यपाल महोदया के साथ काम करते हुए नवाचार को बढ़ावा देंगे और प्रदेश की प्रगति में योगदान देंगे। कार्यक्रम में राज्यपाल ने श्री बोरा और श्री श्रीवास्तव को प्रतीक चिन्ह प्रदान किया और नवनियुक्त परिसहाय श्री सिद्धार्थ सिंह का भी स्वागत किया।  राजभवन के उप सचिव श्रीमती रोक्तिमा यादव ने कार्यक्रम का संचालन किया। कार्यक्रम में राज्यपाल के विधिक सलाहकार श्री आर.के. अग्रवाल, राज्यपाल के परिसहायद्वय श्री त्रिलोक बंसल और श्री सिद्धार्थ सिंह तथा अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button