राजनीति

मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने कहा- अगर भगवान भी मुख्यमंत्री बन जाएं, तब भी सबको सरकारी नौकरी देना संभव नहीं 

नई दिल्ली 
मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने शनिवार को कहा है कि भले ही भगवान कल सीएम बन जाए, 100 फीसदी सरकारी नौकरी तब भी संभव नहीं होगी। स्वयंमपूर्णा मित्रा की पहल पर ग्राम पंचायत प्रतिनिधियों के साथ एक वेब सम्मेलन को संबोधित करते हुए प्रमोद सावंत ने कहा है कि सभी को सरकारी नौकरी देना संभव नहीं है। भले ही भगवान कल सीएम बने 100 फीसदी सरकारी नौकरियां अभी भी संभव नहीं होगीं। बता दें कि देश में कोरोना महामारी के बाद नई नौकरियों को लेकर मिल रहे संकेतों में सुधार दिखना शुरू हो गया है। हालांकि अभी करीब 30 फीसदी नौकरियां वर्क फ्रॉम होम की ही मिल रही हैं। नेशनल करियर सर्विस पोर्टल के आंकड़ों के मुताबिक मौजूदा समय में करीब 57 हजार से ज्यादा नियोक्ता पूरे देश में 1.68 लाख नौकरियां दे रहे हैं। नौकरी मांगने वालों की संख्या 1.04 करोड़ है।

नेशनल करियर सर्विस पोर्टल के मुताबिक सितंबर महीने में देश भर में नई नौकरियों की 73,416 जगहों के लिए नियोक्ताओं ने आवेदन मांगे हैं। हालांकि पिछले महीने अगस्त में ये आकंड़ा 69,302 नौकरियों से जुड़ा हुआ था। हिंदुस्तान को मिली जानकारी के मुताबिक मौजूद कुल नौकरियों में से ज्यादातर फ्रेशर्स या फिर कम अनुभव वाले लोगों के लिए ही हैं। सभी नौकरियों के पोस्ट में 0-3 साल के अनुभव से जुड़ी 50 फीसदी से ज्यादा पोस्ट देखने को मिल रही है। यही नहीं मौजूद कुल नौकरियों में से 50 हजार यानी करीब 30 फीसदी नौकरियां वर्कफ्रॉम होम की हैं। इनमें अलग अलग शहरों में आईटी, बीपीओ और सेल्स से जुड़े काम के लिए आवेदन मांगे गए हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button