उत्तर प्रदेशराज्य

मुंबई में सवा करोड़ के लूटकांड का खुलासा, लखनऊ में 3 आरोपी गिरफ्तार

लखनऊ
उत्तर प्रदेश स्पेशल टास्क फोर्स और मुंबई पुलिस को बुधवार को उस समय बड़ी हाथ लगी, जब मुंबई में सवा करोड़ के सनसनीखेज सर्राफा लूटकांड को अंजाम देने वाले तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया. बता दें मुंबई में मीरा रोड पर स्थित ज्वैलर के यहां सवा करोड़ की लूट हुई थी. एसटीएफ ने गिरफ्तार आरोपियों के पास से आरोपियों से 40 लाख के गहने, 5.27 लाख रुपये बरामद किए हैं. यही नहीं इनके पास से पुलिस से लूटी एक रिवाल्वर भी बरामद की गई है. गिरफ्तार आरोपियों में गाजीपुर का विनय कुमार सिंह, जौनपुर का दिनेश निषाद और वाराणसी का शैलेंद्र कुमार मिश्र शामिल है.

एसटीएफ के अनुसार मुंबई के मीरा रोड स्थित एस कुमार गोल्ड एंड डायमंड शॉप में लूट की घटना के संबंध में मुंबई पुलिस की तरफ से सहयोग मांगा गया था. जांच में पता चला कि गाजीपुर का एक शख्स गैंग चला रहा है, जो देश और प्रदेश में कई जगह डकैती को अंजाम दे चुका है. पता चला कि ये गैंग इस समय लखनऊ में है और डकैती के लिए ज्वैलरी शॉप की रेकी कर रहा है.

मुखबिर से मिली सूचना के आधार पर तीनों अभियुक्तों के यूपी एसटीएफ और मुंबई पुलिस की संयुक्त टीम ने गिरफ्तार कर लिया. पूछताछ में गाजीपुर के विनय कुमार सिंह ने बताया कि पिता की हत्या का बदला लेने क लिए वह 1991 में अपराधी बना, उसने उदयीराम पर जानलेवा हमला किया. इसके बाद 1994 में फिर हमला किया और इस बार उदयीराम की मौत हो गई. 1995 में उसने भरतराम नाम के शख्स पर जानलेवा हमला किया. 2001 में उसने गाजीपुर के सैदपुर में सहकारी बैक कर्मी से लूट की. फिर वाराणसी में जीवन बीमा के पैसे लूटे. इस घटना में शामिल एक और शख्स मनोज दुबे बाद में पुलिस एनकाउंटर में मारा गया.

उसने बताया कि उनकी देश और प्रदेश के कई ठिकानों पर लूट की योजना बना रखी थी, इनमें गोआ के कैसीनो, प्रयागराज के सुभाष चौराहे के पास ज्वैलरी शॉप, लखनऊ के फन मॉल के पास ज्वैलरी शॉप पर उनका निशाना था.

ये लोग पहले ज्वैलरी शॉप जाते थे और माहौल आंकते थे. फिर गार्ड व कर्मचारियों से दोस्ती की कोशिश करते थे. तकि शॉप की सुरक्षा की पूरी जानकारी हासिल कर लें. इसके बाद सभी रास्तों की रेकी करते थे. घटना के बाद सभी अलग-अगल रास्तों से फरार हो जाते.

विनय ने बताया कि उसके गैंग में शैलेद्र, दिनेश, आजमगढ़ का संजीत, गाजीपुर का सेनू सिंह शामिल हैं. सभी ज्वैलरी शॉप लूटने की फिराक में थे, 7 जनवरी को मुंबई के मीरा रोड स्थित ज्वैलरी शॉप में लूट की. बाद में लूट का सारा माल बांट लिया था. रिवाल्वर के संबंध में उसने बताया कि ये पुलिस से लूटी गई है, गाजीपुर के राजू राय ने उसे दी थी.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close