उत्तर प्रदेशराज्य

महीने-दो महीने में सीबीआई की जांच रिपोर्ट आए सामने: पीड़ित पिता

 हाथरस  
हाथरस मामले की सीबीआई जांच का परिणाम जल्द सामने आए यही चाहत पीड़ित परिवार की भी है। शनिवार को पीड़िता के पिता ने उम्मीद जताई कि एक दो माह में परिणाम सामने आ जाना चाहिए।

बूलगढ़ी गांव के एक खेत में 14 सितंबर को हुई दर्दनाक हिंसक घटना के दोषी कौन हैं इसका पता लगाने के लिए सरकार ने सीबीआई जांच का फैसला लिया। यहां सीबीआई ने पिछले सप्ताह मंगलवार को जांच शुरू की। सीबीआई के तेज तर्रार अफसर गांव से लेकर घटनास्थल और चिता स्थल के चप्पे-चप्पे का मुआयना कर चुके हैं। जिस किसी शख्स का घटना से जरा भी ताल्लुक है, सीबीआई उससे पूछताछ कर रही है। एक बार नहीं कई कई बार पड़ताल की जा रही है। कई लोगों के कपड़े व अन्य सामान भी जांच एजेंसी ने कब्जे में लिए हैं।

सीबीआई पीड़ित परिवारीजनों से भी कई बार पूछताछ कर चुकी है। आरोपियों के घर भी गई। जेल में भी पूछताछ हुई है। सीबीआई कहां क्या कर रही है, सारी जानकारी भले पीड़ित परिवार को नहीं, लेकिन परिवार चाहता है कि जल्द से जल्द जांच का परिणाम सामने आए। शनिवार को पीड़िता के पिता ने कहा कि वह न्याय चाहते हैं। इसमें देरी नहीं होनी चाहिए। वह उम्मीद करते हैं कि एक दो महीने में सीबीआई अपनी जांच पूरी कर लेगी।

'पापा बहुत सीधे हैं, इनका ख्याल रखना'
बेटी को इस दुनिया से गए महीना भर होने को है। उसकी यादें रह रहकर आती हैं। बार बार दिल में हूक सी उठती है। आंखों में आंसू आ जाते हैं। हाथरस मामले की पीड़िता के पिता आज भी बेटी को दिन में कई बार याद कर रोने लगते हैं। कहते हैं कि बेटी कहकर गई है, पापा बहुत सीधे हैं, इनका ख्याल रखना।

अस्पताल में भर्ती बेटी का हाल याद कर रोत हुए पीड़िता के पिता कहते हैं कि बेटी उनका बड़ा ख्याल रखती थी। जब अस्पताल में बहुत गंभीर हाल में थी तब भी पापा को याद करती। अंतिम समय, दुनिया से जाने से कुछ देर पहले भी बेटी ने पिता की ओर देखा। शनिवार को बेटी को याद कर पिता की आंखें छलक उठीं। बोले बेटी यही कहती थी कि मेरे पापा बहुत सीधे हैं। अंतिम बार भी यही कहकर गई कि मेरे पापा बहुत सीधे हैं, इनका ख्याल रखना।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close