राजनीति

महबूबा मुफ्ती ने जम्मू-कश्मीर में दिखाया प्रेशर कुकर वाला डर

जम्मू 
पीडीपी चीफ और जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने शुक्रवार को केंद्र सरकार पर अनुच्छेद 370 को हटाए जाने को लेकर हमला किया और कहा कि लोगों की आवाज दबाकर प्रेशर कुकर जैसे हालात बना दिए गए हैं। उन्होंने यह भी कहा कि जब कुकर फटता है तो पूरे घर को जला डालता है। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, ''एक समय आएगा जब केंद्र सरकार खुद लोगों से हाथ जोड़कर पूछेगी कि आपको विशेष दर्जा की बहाली के अलावा क्या चाहिए।'' मुफ्ती ने हिरासत से बाहर आने के बाद जम्मू में पहली रैली में कहा, ''केंद्र सरकार ने लोगों की आवाज को दबाया और वे उन्हें बात नहीं करने दे रहे हैं। यह प्रेशर कुकर जैसा है। उन्होंने ऐसा माहौल बना दिया है। लेकिन जब प्रेशर कुकर फटता है तो पूरे घर को जला डालता है।''  पीडीपी चीफ गुरुवार को यहां पीपल्स कॉन्फ्रेंस फॉर गुपकर डिक्लरेशन (PCGD) में भाग लेने पहुंचीं, जो शनिवार को प्रस्तावित है। इसकी अगुआई नेशल कांफ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला करेंगे। उन्होंने राष्ट्रीय बजरंग दल और शिव सेना कार्यकर्ताओं ने काले झंडे दिखाए। ये लोग महबूबा मुफ्ती के उस बयान का विरोध कर रहे हैं, जिसमें उन्होंने कहा था कि वह तब तक तिरंगा या कोई दूसरा झंडा नहीं उठाएंगी जब तक राज्य को विशेष दर्जा वापस नहीं दे दिया जाता है। 

मुफ्ती ने जोर देकर कहा कि उनकी पार्टी मूक दर्शक नहीं बनी रहेगी और अनुच्छेद 370 की बहाली तक चुपचाप नहीं बैठी रहेंगी। पार्टी मुख्यालय में पीडीपी वर्कर्स को संबोधित करते हुए मुफ्ती ने कहा, ''एक समय आएगा जब नई दिल्ली की सरकार लोगों से हाथ जोड़कर पूछेगी कि आप विशेष दर्जे की बहाली के अलावा और क्या चाहते हैं। मेरे शब्दों को नोट कर लीजिए।'' इस बात पर जोर देते हुए कि बीजेपी हमेशा राज नहीं करेगी, मुफ्ती ने कहा कि केंद्र सरकार ने अनुच्छेद 370 को हटाकर बड़ी गलती की और संविधान का दुरुपयोग किया। मुफ्ती ने कहा कि अनुच्चेद 370 राज्य को महराजा हरि सिंह ने दिया था ताकि डोगराओं की पहचान सुरक्षित रहे। 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close