मध्य प्रदेशराज्य

मंत्री सखलेचा ने केंद्रीय वित्त-वाणिज्य और उद्योग तथा एमएसएमई मंत्री से नई दिल्ली में भेंट की

भोपाल

सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री ओमप्रकाश सखलेचा ने एक साथ तीन हजार इकाईयों की स्थापना के रोडमेप के साथ आज बुधवार को भारत सरकार के अनेक मंत्रियों से भेंटकर कार्ययोजना पर चर्चा की और केन्द्र सरकार से पूर्ण समर्थन की अपेक्षा की है। इस दौरान सखलेचा ने केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल से आग्रह किया कि मध्यप्रदेश में आईटी सेक्टर में संभावनाओं के दृष्टिगत चीन से शिफ्ट होने वाले सेलुलर उद्योगों को मध्यप्रदेश में स्थापित किया जाए।

मंत्री सखलेचा ने केन्द्रीय वित्त मंत्री सुनिर्मला सीतारमण से भेंट की। उन्होंने आत्मनिर्भर भारत योजना के तहत आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश बनाने के लिए लघु, सूक्ष्म एवं मध्यम उद्यम लगाए जाने के लिए किये जा रहे प्रयासों की जानकारी दी। सखलेचा ने वित्त मंत्री से इस योजना के तहत योजनाओं में पर्याप्त राशि उपलब्ध करवाने का आग्रह भी किया। उन्होंने मध्यप्रदेश के उत्पादों की जानकारी साझा करते हुए सुसीतारमण को मध्यप्रदेश एम्पोरियम के भ्रमण का आमंत्रण भी दिया।

बाद में मंत्री सखलेचा ने केन्द्रीय सड़क-परिवहन राजमार्ग तथा एमएसएमई मंत्री नितिन गडकरी से सौजन्य भेंट की। सखलेचा ने बताया कि जनवरी माह में मध्यप्रदेश में एक साथ 3 हजार इकाईयों की स्थापना का लक्ष्य है। सखलेचा ने बताया कि प्रदेश में फर्नीचर, रेडीमेड गारमेंट, फुड प्रोसेसिंग और खिलौना उद्यमों की स्थापना कल्स्टर के रूप में करने की तैयारी है। केन्द्रीय मंत्री गडकरी ने मध्यप्रदेश को भरपूर सहयोग देने का आश्वासन दिया।

मंत्री सखलेचा ने केन्द्रीय रेल और वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयुष गोयल से भी भेंट की। उन्होंने गोयल को मध्यप्रदेश में छोटे उद्योगों की संभावनाओं के साथ ही प्रदेश के संसाधनों से भी अवगत कराया। सखलेचा ने कलस्टर के रूप में फर्नीचर, खिलौना, रेडीमेड गारमेंट और फुड प्रोसेसिंग की बड़ी संख्या में लगने वाली इकाईयों से होने वाले उत्पादों की मार्केटिंग और निर्यात के संबंध में भी गंभीर चर्चा की। केन्द्रीय वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर से भेंट के दौरान मंत्री सखलेचा ने सूक्ष्म, लघु और मध्यम इकाईयों की स्थापना में नव उद्यमियों को बैंकों से फाइनेंस में आने वाली कुछ दिक्कतों को दूर करने का आग्रह किया। वित्त राज्यमंत्री ठाकुर ने संयुक्त सचिव और सिडवी के महा प्रबंधक को प्रकरण भेजकर इस मुद्दे के समाधान का भरोसा दिलाया। सखलेचा ने केन्द्रीय मंत्रीगणों को मध्यप्रदेश आने का आमंत्रण भी दिया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button