राजनीति

बिहार में बनेगी NDA सरकार, रिटायरमेंट के सवाल पर CM ने दिया ये जवाब: नीतीश कुमार 

पटना
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने कहा कि चुनावी सभा में भीड़ का कोई मतलब नहीं है। लालू प्रसाद की रैलियों की भीड़ याद कीजिए। भीड़ वोट में तब्दील हो जाए यह जरूरी नहीं है। तेजस्वी (Tejashwi Yadav) के 10 लाख रोजगार पर बात करते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि सिर्फ प्रचार के लिए बात करने का मतलब नहीं है। नौकरी देने की एक व्यवस्था होती है, तरीका होता है। सिर्फ प्रचार के लिए कुछ भी कह दो, लेकिन कही गई बातों की कोई तुक नहीं होती है। एक निजी न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार (Bihar) में लालू-राबड़ी (Lalu-Rabri) का 15 साल तक शासन रहा। इस दौरान उन्होंने केवल 95 हजार नौकरी दी थी। जबकि हमारी सरकार ने उनसे 6 गुना से ज्यादा लोगों को नौकरी दी। नीतीश ने कहा कि हमारी सरकार ने 6 लाख से ज्यादा लोगों को नौकरी दी है। सीएम ने कहा, "तेजस्वी कह रहे हैं कि 10 लाख लोगों को नौकरीं देगें तो उनसे पूछना चाहूंगा कि इतनी बड़ी संख्या में सरकारी नौकरी कहां से आएगी?"

रिटायरमेंट के सवाल को टाल गए बिहार के सीएम नीतीश कुमार
बिहार चुनाव में किसकी सरकार बनेगी? इस सवाल के जवाब में नीतीश कुमार ने कहा कि जबतक लोगों की इच्छा रहेगी हम काम करते रहेंगे और जबतक लोग चाहेंगे तबतक हम काम करते रहेंगे। वहीं रिटायरमेंट के सवाल को टालते हुए बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि अनिश्चित काल के लिए कोई नहीं रहता है। जबतक मौका मिलता रहेगा हम काम करते रहेंगे। हमने कई योजनाएं बनाई हैं और काम किया है। उन्होंने कहा कि केंद्र से हमें पूरा सहयोग मिल रहा है।

बिहार में आरजेडी की सरकार बनी तो फिर बढ़ेगा पलायन: सीएम नीतीश
तेजस्वी-चिराग (Tejashwi Yadav-Chirag Paswan) पर निशाना साधते हुए सीएम नीतीश ने कहा, "कोई क्रिकेट तो कोई सिनेमा की दुनिया से आया है। उनके लिए सिर्फ उनका परिवार ही सबकुछ है। जबकि हमारे लिए पूरा बिहार एक परिवार है। हमको इन लोगों से कोई मतलब नहीं है।" उन्होंने कहा कि हमारे शासनकाल में बिहार में व्यापार और रोजगार बढ़ा है। लेकिन अगर बिहार में आरजेडी (RJD) की सरकार बनी तो फिर पलायन बढ़ेगा।

बिहार में कोई एंटी इनकमबेंसी नहीं: नीतीश कुमार
बिहार चुनाव (Bihar Election) में कितनी सीटें मिलने की उम्मीद है? इसके जवाब में नीतीश कुमार ने कहा कि उम्मीद है कि एनडीए (NDA) को अच्छे ढंग से बहुमत मिलेगा और हम फिर से राज्य में सरकार बनाएंगे। इंटरव्यू के दौरान मुख्यमंत्री ने आरजेडी के शासन काल का जिक्र करते हुए कहा कि बिहार के लोगों को सबकुछ अच्छे से पता है कि डर की वजह से व्यापारी बिहार छोड़कर चले गए। पहले बिहार में नरसंहार की घटनाएं होती थीं, शाम होते ही लोग घर से निकलते नहीं थे। लेकिन पिछले 15 साल में जो काम हुआ है वो सबको पता है। हमारे लिए काम करने का मौका सेवा जैसा है। एंटी इनकमबेंसी के सवाल पर नीतीश कुमार ने कहा कि जो बोलता है, उसे एंटी इनकमबेंसी का मतलब पता नहीं है। बिहार में कोई एंटी इनकमबेंसी नहीं है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close