राजनीति

बिहार चुनाव: नेता प्रतिपक्ष व चार मंत्रियों सहित 1463 उम्मीदवारों के भाग्य का होगा फैसला

पटना
बिहार विधानसभा चुनाव 2020 का महामुकाबला मंगलवार को होगा। महामुकाबला इसलिए क्योंकि दूसरे चरण के तहत 3 नवम्बर को 94 सीटों पर बिहार की जनता अपना प्रतिनिधि चुनेगी। पहले चरण में 28 अक्टूबर को 71 सीटों पर मतदान संपन्न हो चुका है। इस तरह मंगलवार को होने वाले मतदान के साथ ही 243 सदस्यीय बिहार विधानसभा के लिए 165 सीटों पर चुनाव लड़ने वाले प्रतिनिधियों की किस्मत भी ईवीएम में कैद हो जाएगी। दूसरे चरण में 2 करोड़ 86,11,164 मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे। आम चुनाव के दूसरे चरण में 17 जिलों की 94 सीटों के लिए कड़ी सुरक्षा के बीच मंगलवार को मतदान होगा। इस चरण के चुनाव को लेकर सोमवार की शाम से ही सुरक्षाबलों एवं मतदानकर्मियों की टीम को बूथों के लिए रवाना कर दिया गया। इस चरण में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव, सरकार के चार मंत्रियों श्रवण कुमार, रामसेवक सिंह, नंदकिशोर यादव व राणा रणधीर सहित 1463 उम्मीदवार मैदान में है।

2.86 करोड़ मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे
दूसरे चरण में 2 करोड़ 86,11,164 मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे। इनमें 1,50,33,034 पुरुष, 1,35,16,271 महिला एवं 980 थर्ड जेंडर के मतदाता शामिल हैं। इनके अतिरिक्त 60,879 सर्विस मतदाता भी अपना वोट डालेंगे। निर्वाचन विभाग के अनुसार इस चरण में 80 वर्ष से अधिक उम्र के और दिव्यांग मतदाता  20,240 बैलेट पेपर के माध्यम से भी वोट करेंगे।

1463 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला होगा
दूसरे चरण में मंगलवार को 1463 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला होगा। इस चरण में 1316 पुरुष, 146 महिला एवं एक थर्ड जेंडर की उम्मीदवार इनमें शामिल हैं। दूसरे चरण में सबसे अधिक 27 उम्मीदवार महाराजगंज निर्वाचन क्षेत्र में और सबसे कम चार उम्मीदवार दरौली (सु) निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव मैदान में हैं। वहीं, 40 विधानसभा क्षेत्रों में एक से अधिक महिला प्रत्याशी चुनाव लड़ रही हैं। इस चरण में 513 निर्दलीय प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे हैं।  चुनाव आयोग के निर्देश पर सभी निर्वाचन क्षेत्रों में चुनाव की तैयारियों को पूरा कर लिया गया है। इस चरण में हरेक मतदान केंद्र पर अर्धसैनिक बलों की तैनाती की गयी है। इस चरण में सुरक्षा बलों की करीब 1200 कंपनियों को तैनात किया गया है।

41,362 बूथों में 8694 बूथ संवेदनशील
निर्वाचन विभाग के अनुसार दूसरे चरण के चुनाव को लेकर संबंधित जिलों में 41,362 बूथों का गठन किया गया है। इनमें 8694 बूथ संवेदनशील बूथ के रूप में चिन्हित किए  गए हैं। इन बूथों से करीब 4 लाख 01 हजार 631 मतदाता को संवेदनशील मतदाता के रूप में चिन्हित किया गया है। इनमें 44,282 मतदाताओं को धमकी या दबाव देने वाले व्यक्तियों पर नजर रखी जा रही है।

3548 बूथों से होगा लाइव वेब कॉस्टिंग
निर्वाचन विभाग के अनुसार दूसरे चरण के मतदान पर  निगरानी को लेकर 3548 बूथों से लाइव वेबकॉस्टिंग कराने का निर्णय लिया गया है। मतदान को लेकर 41,362 कंट्रोल यूनिट, 41,403 बैलेट यूनिट और 41,362 वीवीपैट का इस्तेमाल किया जाएगा। इस चरण में दीघा विधानसभा क्षेत्र मतदाताओं की दृष्टि से सबसे बड़ा चुनाव क्षेत्र हैं जबकि चेरिया बरियारपुर मतदाताओं की दृष्टि से सबसे छोटा चुनाव क्षेत्र है।

आठ निर्वाचन क्षेत्रों में शाम चार बजे तक मतदान होगा
चुनाव आयोग द्वारा चार जिलों के दूसरे चरण की आठ निर्वाचन क्षेत्रों में मतदान को लेकर सुबह सात बजे से शाम चार बजे तक का समय निर्धारित किया है। इनमें दरभंगा का कुशेश्वरस्थान (सु), गौड़ाबौराम, मुजफ्फरपुर के मीनापुर, पारू व साहेबगंज तथा वैशाली का राघोपुर एवं खगड़िया का अलौली (सु) व बेलदौर निर्वाचन क्षेत्र शामिल है। शेष अन्य सभी चुनाव क्षेत्रों में सुबह सात बजे से शाम छह बजे तक चुनाव होगा।

कितनी सीटों पर है प्रमुख दलों के उम्मीदवार
पार्टी         सीट पर उम्मीदवार
जदयू         43
भाजपा       46
कांग्रेस        24
राजद         56
लोजपा       52
रालोसपा    36
सीपीआई    04
सीपीएम      04
बसपा         33
राकांपा        29

कुल मतदाता — 2,86,11,164
पुरुष  मतदाता — 1,50,33,034
महिला मतदाता — 1,35,16,271
थर्ज जेंडर   —- 980
सर्विस वोटर —- 60,879
कुल मतदान केंद्र — 41,362

अभी किस सीट पर किस प्रमुख दल का है कब्जा
पार्टी — सीटिंग सीट  
राजद —  31   
भाजपा — 22
लोजपा —  02
जदयू   — 30
 कांग्रेस — 07

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button