छत्तीसगढ़राज्य

बस्तर संभाग के पुरातात्विक वैभव विषय पर शोध संगोष्ठी 7 व 8 को

रायपुर
बस्तर का पुरातात्विक वैभव विषय पर संभाग स्तरीय दो दिवसीय शोध संगोष्ठी का अयोजन 7 एवं 8 मार्च 2021 को संग्रहाध्यक्ष कार्यालय, पुरातत्व संग्रहालय, जगदलपुर सिरहासार चौक में किया गया है। इस संगोष्ठी के संबंध में अमृत लाल पैकरा, उप संचालक एवं प्रभारी संग्रहाध्यक्ष ने बताया कि यह संगोष्ठी बस्तर संभाग के पुरातात्विक धरोहरों का संरक्षण, संवर्धन एवं सुरक्षा तथा बस्तर में पर्यटन के क्षेत्र में विकास हेतु बस्तर के पुरातात्विक धरोहरों की सहभागिता की दृष्टि से बस्तरांचल के लोगों में क्षेत्र के पुरातात्विक धरोहरों के प्रति जन-जागरूकता लाने के उद्देश्य से किया जा रहा है।

उक्त संगोष्ठी में भाग लेने वाले प्रतिभागियों को बस्तर संभाग के विभिन्न क्षेत्रों में बिखरे पड़े एवं मंदिरों में रखे गये प्राचीन प्रतिमाओं, क्षेत्र के पुरातात्विक स्थलों, प्राचीन मंदिरों, प्राचीन गढ़ एवं किलों के भग्नावशेषों, रजत, स्वर्ण, तांबा निर्मित धातु के प्राचीन सिक्कों, पाण्डुलिपियों, शिलालेखों, ताम्रपत्र एवं भोजपत्र, प्राचीन लेखों, जगदलपुर शहर के अंदर प्राचीन मंदिरों, भवनों घाट तालाबों इत्यादि पुरातत्व से सम्बंधित शोध पत्र 6 मार्च 2021 तक कार्यालयीन समय में कार्यालय में जमा कर पंजीयन कराना होगा। विभिन्न क्षेत्रों से आने वाले प्रतिभागियों को यात्रा व्यय, भोजन व्यवस्था एवं आवश्यकतानुसार आवास सुविधा उपलब्ध कराया जायेगा। प्रतिभागियों को विभाग के द्वारा प्रमाण पत्र के साथ सम्मानित किया जाएगा। इस दो दिवसीय शोध संगोष्ठी के विषय में रूचि रखने वाले सभी सम्माननीय इतिहासकार, साहित्यकार, लोक कलाकार एवं क्षेत्र के सभी नागरिकों को विभाग की ओर से सादर आमंत्रित किया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button