छत्तीसगढ़राज्य

फर्जी नंबर प्लेट लगाकर चांवल की ठगी, गोंदिया से हुए तीन गिरफ्तार

बेमेतरा
फर्जी नंबर प्लेट लगाकर चांवल की हेराफेरी करने वाले तीन आरोपी गोंदिया महाराष्ट्र से गिरफ्तार कर लिए गए, इनके पासे से बेरला पुलिस ने 134 कट्टा चांवल, घटना में प्रयुक्त ट्रक व  2 फर्जी नंबर प्लेट बरामद किए। आरोपियों ने बेमेतरा जिले के बेरला थाना के अंतर्गत आने वाले कंडरका में संचालित राइस मिल व महासमुंद के बसना में संचालित राइस मिलर को अपना शिकार बनाया था।

बेमेतरा पुलिस ने ने बताया कि शांति राईस मिल का मालिक उदयराज सिंघानिया निवासी टाटीबंध रायपुर चौकी कण्डरका जिला बेमेतरा में रिपोर्ट दर्ज कराई कि ओमसाई फ्रेट कैरियर के संचालक परमजी चौबे एवं ट्रक वाहन क्रमांक-एमपी 09 एचजी 6114 का चालक अभिजीत पाण्डे द्वारा 506 बोरी आई.आर. 64 कुल 253 क्विंटल कीमती 5,88,225 रुपए को लोड कर गंतव्य स्थान न पहुंचाकर धोखाधड़ी किया गया है। उक्त रिपोर्ट पर पुलिस ने धारा 420 ,120 बी का मामला पंजीबद्ध कर जांच शुरू की थी। एसपी ने चौकी प्रभारी कण्डरका एवं सायबर सेल की टीम को आरोपी का पतासाजी कर गिरफ्तार करने हेतु निर्देशित किया गया। विवेचना के दौरान घटना में प्रयुक्त ट्रक वाहन क्रमांक एमपी 09 एचजी 6114 के मालिक से सम्पर्क किया गया, जिस पर वाहन मालिक ने बताया कि घटना दिनांक को उसका ट्रक इन्दौर में ही था, छत्तीसगढ़ नहीं गया था तथा कुछ दिन पूर्व महाराष्ट्र से उसकी गाड़ी का कागजात चोरी हो जाना बताया गया। इस बार पुलिस ने आशंका जताई कि आरोपियों ने फर्जी नंबर प्लेट लगाकर घटना को अंजाम दिया है। आरोपियों द्वारा ट्रांसपोर्टर एवं मिलर को जिस नंबर से फोन किया था, उसका कॉल डेटा रिकार्ड खंगाला गया तब पता चला कि आरोपियों द्वारा उक्त मोबाईल नंबर का उपयोग सिर्फ घटना के दिन ही उपयोग किया गया है।

इसी तरह 21 अक्टूबर को बसना के कृष्णा राईस मिल से एक ट्रक चांवल धोखाधड़ी किए जाने का मामला सामने आया। बसना के केस में महाराष्ट्र पासिंग का फर्जी ट्रक नंबर उपयोग किया गया है। बसना पुलिस ने बेरला पुलिस से इस मामले में संपर्क किया और दोनों घटना का तरीका वारदात एक समान होना पाया गया। दोनों जिलों के पुलिस ने इस मामले में बेमेतरा सायबर टीम की मदद से नंदकुशोर उर्फ नंदू ठाकरे (30) नागपुर महाराष्ट्र, गुमान मरकाम (32) एलबी नगर राजनांदगांव तथा अलकेश उईके (24) बैतूल म.प्र. को गोंदिया महाराष्ट्र से गिरफ्तार कर बेमेतरा लेकर आए। इस कार्रवाई में कार्रवाई में डी.एल. सोना चैकी प्रभारी कण्डरका,  दिनेश मंडावी, निरंजन वैष्णव संजय पाटिल चैकी कडरका मोहित चेलक, लोकेष सिंह एवं विक्रम सिंह सायबर सेल बेमेतरा की भूमिका महत्वपूर्ण रही।

पूछताछ में आरोपियों द्वारा शांति राईस मिल कण्डरका, बेमेतरा एवं कृष्णा राईस मिल बसना जिला महासमुंद से योजनाबद्ध तरीके से 1-1 ट्रक चांवल ठगी करना स्वीकार कर लिया। पुलिस ने आरोपियों के पास से 134 कट्टा चांवल जिसकी  कीमती लगभग 1,54,000 एवं घटना में प्रयुक्त ट्रक क्रमांक-एमएच 49, 5608 जिसकी कीमती 15,00,000 जुमला 16,54,000 रुपऐ एवं घटना में प्रयुक्त 2 फर्जी नंबर प्लेट को जब्त कर लिया है। पुलिस ने तीनों आरोपियों को जिला न्यायालय बेमेतरा में पेश किया जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया। 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button