मध्य प्रदेशराज्य

प्रमुख सचिव ऊर्जा दुबे ने की डिस्ट्रीब्यूशन और जनरेटिंग कंपनी के कार्यों की समीक्षा

भोपाल

प्रमुख सचिव ऊर्जा संजय दुबे ने शक्ति भवन, जबलपुर में पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी और पावर जनरेटिंग कंपनी की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि पावर हाउस और विद्युत लाइनों का मेंटेनेंस योजनाबद्ध और गुणवत्तापूर्ण ढंग से किया जाए, जिससे कि सतत् बिजली उत्पादन के साथ उपभोक्ताओं को सुचारू रूप से बिजली की आपूर्ति सुनिश्चित हो। दुबे ने कहा कि प्रदेश की विद्युत वितरण कंपनियों में योजनाबद्ध तरीके से हुए मेंटेनेंस के कारण ट्रिपिंग में पूर्व वर्षों की तुलना में कमी आई है। उन्होंने कहा कि मैदानी क्षेत्रों में खराब ट्रांसफार्मर को समय-सीमा में बदलने का बेहतर कार्य किया गया है।

पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के कार्यों की समीक्षा

प्रमुख सचिव संजय दुबे ने मैदानी अभियंताओं से स्पष्ट रूप से कहा कि वे बिजली चोरी पर प्रभावी नियंत्रण के साथ बकाया राशि की वसूली में जुट जाएं। उन्होंने कहा कि बिजली चोरी पर नियंत्रण के साथ बकाया राशि की शत-प्रतिशत वसूली करने पर ही बिजली कंपनियों की वित्तीय स्थि‍ति सुदृढ़ हो सकेगी। प्रमुख सचिव ऊर्जा ने 33 केवी, 11 केवी, 33 केवी सब स्टेशन और डिस्ट्रीब्यूशन ट्रांसफार्मरों के मेंटेनेंस की समीक्षा की।

पावर जनेरटिंग कंपनी की समीक्षा

संजय दुबे ने कहा कि विद्युत इकाइयों व विद्युत गृहों का पांच वर्ष का कोर प्लान तैयार किया जाए। उन्होंने कहा कि इस प्रकार योजना बनाने से भविष्य की बिजली की जरूरत का आंकलन सही तरह से किया जा सकेगा। दुबे ने कहा कि बिजली अभियंता योग्यता व बेहतर कार्य निष्पत्ति की दृष्टि में राष्ट्रीय स्तर के सार्वजनिक क्षेत्रों के अभियंताओं के समकक्ष हैं। प्रोफेशनल ढंग से उनके कार्यों को बेहतर बनाने के लिए अभियंताओं को प्रशिक्षण दिया जाए। उन्होंने कहा कि कार्मिकों के साथ सि‍स्टम को भी अपग्रेड व अपडेट करने के लिए पावर जनरेटिंग कंपनी विस्तृत कार्य योजना तैयार करे।

कर्मियों को पुरस्कृत करने की घोषणा

प्रमुख सचिव ऊर्जा संजय दुबे ने जबलपुर-सूखा 220 केवी और जबलपुर-नरसिंहपुर 220 केवी ट्रांसमिशन लाइनों का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान मध्यप्रदेश पावर ट्रांसमिशन कंपनी के तकनीकी कर्मियों द्वारा लगभग 85 फुट ऊँचाई पर एरियल वर्क प्लेटफार्म का उपयोग करते हुए बेयर हेंड टेक्निक (नंगे हाथों से कार्य करना) के हैरत अंगेज कार्य को देखा, जिसमें कर्मी लाइन वोल्टेज पर ही विशेष सूट के माध्यम से चार्ज हो कर कार्य करता है। इस तकनीक में तकनीकी कर्मी चालू अति उच्च-दाब ट्रांसमिशन लाइन में हाथ से कार्य कर रहे थे। प्रमुख सचिव ऊर्जा संजय दुबे ने तकनीकी कर्मियों के साहस, दक्षता व कार्य कुशलता की सराहना की और उन्हें पुरस्कृत करने की घोषणा की।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button