मध्य प्रदेशराज्य

प्रदेश के विकास में विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी संस्थानों की भूमिका

भोपाल

मध्यप्रदेश विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी परिषद् (मेपकास्ट) द्वारा 1 नवम्बर 2020 को राउंड टेबल कॉन्फ्रेंस का आयोजन प्रातः 10:30 बजे होटल पलाश रेसीडेंसी में किया जायेगा। कॉफ़्रेंस के मुख्य अतिथि सूक्ष्म, लघु, मध्यम उद्यम और विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री ओमप्रकाश सखलेचा होंगे।

कान्फ्रेंस का विषय 'प्रदेश के विकास में विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी संस्थानों की भूमिका: आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश के लिए भावी रोडमैप (रोल ऑफ एस एंड टी आर्गेनाइजेशन इन द डेवलपमेंट ऑफ स्टेट: वे फॉरवर्ड फॉर आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश) रखा गया है।

राउंड टेबल कान्फ्रेंस का मुख्य उद्देश्य सूक्ष्म, लघु तथा मध्यम उद्यम क्षेत्र का विस्तार, विभिन्न क्षेत्रों में आय में बढ़ोतरी और प्रॉडक्ट की क्वालिटी में सुधार कराना है। परिषद् के महानिदेशक डॉ. अनिल कोठारी ने बताया कि सम्मेलन में प्रदेश के विभिन्न वैज्ञानिक संस्थानों के निदेशकों, चेयरमेन, विश्वविद्यालयों के कुलपतियों, प्रबन्ध निदेशकों और मुख्य कार्यकारी अधिकारियों को विचार मंथन और सुझावों (इनपुट) के लिए आमंत्रित किया गया है। इन सुझावों का उपयोग विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी के माध्यम से आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश के लिए भावी रोडमैप’ तैयार करने में किया जायेगा। उन्होंने बताया कि मेपकास्ट द्वारा विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, मेप आईटी द्वारा सूचना प्रौद्योगिकी एवं एमएसएमई द्वारा सूक्ष्म, लघु तथा मध्यम उद्यम क्षेत्र की गतिविधियों का पूर्णावलोकन (ओवरव्यू) प्रस्तुत किया जायेगा।

सम्मेलन का आयोजन विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी परिषद् (मेपकास्ट) और विज्ञान भारती (विभाग) के संयुक्त तत्वावधान में किया जायेगा। द्वितीय सत्र सहयोगात्मक प्रयासों के लिए रुचि अभिव्यक्ति एक्सप्रेशन ऑफ इंटरेस्ट पर केंद्रित रहेगा। इस अवसर पर मंत्री विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, सूक्ष्म, लघु तथा मध्यम उद्यम विभाग ओमप्रकाश सखलेचा, विज्ञान भारती के राष्ट्रीय संगठन मंत्री जयंत सहस्त्रबुद्धे, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी सचिव एम. सेलवेन्द्रन, सूक्ष्म, लघु तथा मध्यम उद्यम सचिव विवेक कुमार पोरवाल भी उपस्थित रहेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button