अंतरराष्ट्रीय

पाकिस्तान तैयारी में अयाज सादिक को देशद्रोही घोषित करने की, अभिनंदन की वापसी का बताया था सच

 
इस्लामाबाद 

 इंडियन एयरफोर्स के ऑफिसर विंग कमांडर अभिनंदन की भारत वापसी का सच बताने वाले पाकिस्तानी नेता अयाज सादिक के पीछे इमरान खान सरकार हाथ धोकर पड़ गई है. पाकिस्तान के नेशनल असेंबली के पूर्व स्पीकर अयाज सादिक के खिलाफ अब देशद्रोह का केस चलाने की तैयारी हो रही है. पहले तो इमरान सरकार में सूचना मंत्री शिबली फराज ने कहा कि अयाज सादिक के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जा सकती है. अब पाकिस्तान के गृह मंत्री इजाज़ शाह ने शनिवार को कहा है कि सरकार को कई याचिकाएं मिली हैं जिनमें मांग की गई है कि अयाज सादिक के खिलाफ संविधान की धारा-6 के तहत मुकदमा चलाया जाए. धारा-6 में देशद्रोह को परिभाषित किया गया है. ननकाना साहिब में एक रैली को संबोधित करते हुए इजाज़ शाह ने कहा कि इन याचिकाओं को विधि विभाग के पास भेज दिया गया है और इनकी समीक्षा की जा रही है.

कांप रहे थे पैर, पसीने पर माथा
बता दें कि पाकिस्तान की संसद में अयाज सादिक का दिया गया एक बयान वायरल हो रहा है, इस बयान में पीएमएल एन नेता अयाज सादिक कह रहे हैं, "अभिनंदन की क्या बात करते हैं, मुझे याद है कि शाह महमूद कुरैशी उस मीटिंग में थे जिसमें प्राइम मिनिस्टर ने आने इनकार कर दिया था. चीफ आवामी साहब तशरीफ लाए. पैर कांप रहे थे, पसीना माथे पर था. हमसे शाह महमूद कुरैशी साहब ने कहा कि खुदा के वास्ते अभिनंदन को वापस जाने दें. चूंकि 9 बजे रात को हिंदुस्तान पाकिस्तान पर अटैक कर रहा है." 

अयाज सादिक के बयान से बिलबिलाया पाक
पीएमएल एन नेता के इस बयान पर पाकिस्तान में हंगामा मच गया है. अयाज सादिक ने ये बयान पाकिस्तान की संसद में दिया है, इसलिए इस बयान की सत्यता को लेकर कोई शंका है ही नहीं. शुक्रवार को शिबली फराज ने कहा कि अयाज सादिक ने जो कहा है वो क्षमा योग्य नहीं है, अब कानून अपना काम करेगा. उन्होंने कहा कि देश को कमजोर करने वाले बयान देना अक्षम्य अपराध है, इसके लिए सजा दी जाएगी.  
 
26-27 फरवरी की कहानी
बता दें कि 27 फरवरी 2019 को पाकिस्तानी सेना ने विंग कमांडर अभिनंदन को उस दौरान बंदी बना लिया था जब पाकिस्तानी विमानों के साथ हुई हवाई जंग में ऑफिसर अभिनंदन का विमान पाकिस्तान में क्रैश लैंड हुआ था. इससे पहले कैप्टन अभिनंदन ने पाकिस्तान के एक एफ-16 विमान को मार गिराया था. इससे एक दिन पहले 26 फरवरी 2019 को पाकिस्तान के बालाकोट में स्थित जैश ए मोहम्मद के आतंकी ठिकानों को भारत ने नेस्तनाबूद कर दिया था. भारत ये कार्रवाई पुलवामा अटैक के जवाब में की थी.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button