राष्ट्रीय

पाकिस्तान की तरफ से युद्धविराम का उल्लंघन करते हुए फायरिंग की गई, 2 जवान शहीद

श्रीनगर
त्योहार के मौके पर पाकिस्तान ने कायराना हरकत दिखाते हुए शुक्रवार को एलओसी के पास अलग-अलग इलाकों में सीजफायर का उल्लंघन किया। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, इस दौरान दो जवान शहीद हो गए जबकि 4 नागरिकों की भी मौत हो गई। भारतीय सेना के अनुसार, एलओसी के पास केरन से उरी सेक्टर तक कई जगहों पर पाकिस्तान की तरफ से फायरिंग की गई। भारतीय सेना मुंहतोड़ जवाब दे रही है।

बारामूला में पाकिस्तान की तरफ से युद्धविराम के उल्लंघन करते हुए भी फायरिंग की गई। इस नापाक हरकत में घायल हुए बीएसएफ के जवान राकेश डोभाल शहीद हो गए हैं। राकेश डोभाल उत्तराखंड के ऋषिकेश के गंगानगर के रहने वाले थे। वह बीएसएफ आर्टी रेजिमेंट के सदस्य थे और कॉन्स्टेबल पद पर तैनात थे।

बीएसएफ के अनुसार, आज 12 बजकर 20 मिनट पर दुश्मनों से लोहा लेते हुए उनके सिर पर गोली लगी थी। सवा एक बजे उनका निधन हो गया। उधर, पुंछ जिले के सवजियान इलाके में भी पाकिस्तान की तरफ से फायरिंग की जा रही है। भारतीय सेना मुंहतोड़ जवाब दे रही है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, जम्मू-कश्मीर के कमलकोट सेक्टर में पाकिस्तान की तरफ फायरिंग में 4 नागरिकों की मौत हो गई। उरी के कमलकोट के अलावा बांदीपोरा के गुरेज सेक्टर और कुपवाड़ा जिले के केरन सेक्टर में भी सीजफायर उल्लंघन हुआ।

श्रीनगर के रक्षा प्रवक्ता राजेश कालिया ने बताया, 'शुक्रवार सुबह एलओसी के पास केरन सेक्टर स्थित अग्रिम चौकियों पर संदिग्ध गतिविधि देखी गई। सैन्य टुकड़ियों ने संदिग्ध घुसपैठ की कोशिश को नाकाम किया। भारतीय सेना ने कहा कि पाकिस्तान की तरफ से बिना किसी कारण केरन सेक्टर पर मोर्टार भी दागे गए।'

रक्षा प्रवक्ता ने बताया कि सेना ने एक घुसपैठ की कोशिश नाकाम की जिसके बाद फायरिंग शुरू हो गई। राजेश कालिया ने बताया, 'भारतीय सेना की तरफ से मुंहतोड़ जवाब दिया जा रहा है।'

एक हफ्ते के अंदर घुसपैठ की यह दूसरी कोशिश की। इससे पहले 7-8 नवंबर की रात को माछिल सेक्टर में घुसपैठ को नाकाम किया गया। इस दौरान तीन आतंकी भी मार गिराए गए। ऑपरेशन के दौरान कैप्टन और एक बीएसएफ जवान समेत तीन सैनिक शहीद हो गए थे। प्रवक्ता ने बताया, 'पाकिस्तान की तरफ से आतंकियों के घुसपैठ की सभी कोशिश नाकाम करने केलिए भारतीय सेना पूरी तरह तैयार है।'

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button