मध्य प्रदेशराज्य

पांचों विधानसभा क्षेत्रों में 11 लाख 77 हजार 308 मतदाता अपने मताधिकार का करेंगे प्रयोग

मुरैना
जिले में आज होने वाले विधानसभा उपनिर्वाचन में पांचो विधानसभा क्षेत्रों में 11 लाख 77 हजार 308 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करंेगे। मतदाताओें के लिये अपने मतदान करने के लिये 1 हजार 726 मतदान केन्द्र स्थापित किये गये है। इन मतदान केन्द्रों में चिन्हित किये गये 674 मतदान केन्द्रों पर सी.ए.पी.एफ. का बल तैनात किये गये है।    

कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी अनुराग वर्मा ने बताया कि मुरैना जिले की पांचों विधानसभा क्षेत्रों में 11 लाख 77 हजार 308 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। इनमें 6 लाख 41 हजार 994 पुरूष, 5 लाख 35 हजार 268 महिला और 46 हजार अन्य मतदाता है। इसके लिये मुरैना जिले की पांचों विधानसभा क्षेत्रों के लिये 1726 मतदान केन्द्र स्थापित किये गये है।              

विधानसभा क्षेत्र 04 जौरा के 2 लाख 44 हजार 65 मतदाताओं के लिये 370 मतदान केन्द्र स्थापित किये है। 05 सुमावली के 2 लाख 40 हजार 628 मतदाताओं के लिये 348 मतदान केन्द्र स्थाापित किये है। 06 मुरैना के 2 लाख 54 हजार 682 मतदाताओं के लिये 376 मतदान केन्द्र स्थापित किये है। 07 दिमनी के 2 लाख 14 हजार 969 मतदाताओं के लिये 315 मतदान केन्द्र स्थापित किये है। 08 अंबाह विधानसभा क्षेत्र के 2 लाख 22 हजार 964 मतदाताओं के लिये 317 मतदान केन्द्र स्थापित किये है।  

कलेक्टर वर्मा ने बताया कि मतदान शान्तिपूर्ण संपन्न कराने के लिये जिले में 1726 मतदान केन्द्रों पर 8 हजार 984 कर्मचारी लगाये गये है। इसके साथ ही पांचो विधानसभा क्षेत्रों में 133 सेक्टर आॅफीसर, 260 माईक्रो आॅब्जर्वर, 674 क्रिटिकल मतदान केन्द्रों पर सीएपीएफ का बल तैनात रहेगा। उन्होंने बताया कि 1726 मतदान केन्द्रों में से अधिकतर मतदान केन्द्र सीसीटीव्ही कैमरे की निगरानी में जोड़ा गया है। उन्होंने कहा कि जिसमें माॅनीटरिंग बराबर की जायेगी। उन्होंने बताया कि 3 नवम्बर को पांचों विधानसभा क्षेत्र की सीमायें सील रहेंगी। बाहरी व्यक्तियों को प्रवेश पाने के लिये रोको टोको एवं रजिस्टर में नाम, मोबाइल नम्बर, पता आदि की जानकारी संकलित की जायेगी। इसके साथ ही माईक्रो आब्जर्वर मतदान में ही उपस्थित होकर वहां घटित होने वाले प्रत्येक गतिविधियों पर नजर रखेगा और पल-पल की जानकारी भी संकलित करेगा। मतदाता की श्रेणी के अंतर्गत 80 वर्ष से अधिक आयु के मतदाता, दिव्यांग मतदाता तथा कोविड-19 संक्रमित मतदाता को डाक मतपत्र से मत देने के लिए शामिल किया गया है। पूर्व में सिर्फ सरकारी कर्मचारियों को ही डाकमत पत्र से मतदान करने की सुविधा थी।    

भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार 3 नवम्बर 2020 को प्रातः 5.30 बजे पाॅलिंग एजेन्ट की उपस्थिति में माॅकपोल मतदान दल करेंगे। माॅकपोल के दौरान कम से कम दो दलों के एजेन्ट उपस्थित रहें। उन्होंने कहा कि दिखावटी मतदान के बाद ईव्हीएम एवं व्हीव्हीपैट मशीन से समस्त रिकाॅर्ड खाली किया जाये। वास्तविक मतदान प्रातः 7 बजे से प्रारंभ होगा।          

सामग्री वितरण स्थल पर ईव्हीएम का दिया प्रशिक्षण
पाॅलीटेक्निक काॅलेज पर जो पाॅलिंग पार्टियां रवाना हो रहीं थी। उन्हें कलेक्टर की उपस्थिति में ईव्हीएम का प्रशिक्षण दिया जा रहा था। जो लोग प्रशिक्षण प्राप्त करने में ईव्हीएम मशीन के बारे में संका सोच रहे थे, उनका भी बारी-बारी से समाधान मास्टर ट्रेनर्स ने किया।

पुलिस अधीक्षक अनुराग सुजानिया ने कहा कि उपनिर्वाचन शान्तिपूर्ण संपन्न कराने के लिये पुलिस बल पर्याप्त मात्रा में प्राप्त हुआ है। जिसमें 674 क्रिटिकल मतदान केन्द्रों पर सीएपीएफ बल तैनात रहेगा। नाॅर्मल मतदान केन्द्रों पर भी सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये गये है। इनके अलावा पुलिस की 133 मोबाइल टीम, सेक्टर आॅफीसर की टीम लगातार मतदान केन्द्रों पर भ्रमण करती रहेंगी। प्रत्येक मतदान केन्द्र पर 15 से 20 मिनिट के अंदर यह अधिकारी सतत संपर्क मतदान दलों से बनाये रखेंगे।

मतदान केन्द्र के अंदर किसी प्रकार की वीडियोग्राफी नहीं होगी
पुलिस अधीक्षक ने बताया कि 3 नवम्बर को मतदान केन्द्र के अंदर किसी भी प्रकार की वीडियोग्राफी नहीं होगी। मात्र फोटोग्राफी की जा सकती है। जो भी वोटिंग कम्पाउन्ट की नहीं।

मतदान केन्द्र के 100 मीटर की परिधि में मोबाइल पर प्रतिबंध रहेगा
पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मतदान केन्द्र की 100 मीटर की परिधि में किसी भी प्रकार का मोबाइल एलाउ नहीं होगा, केबल पाॅलिंग पार्टी ही मोबाइल मतदान केन्द्र में रख सकेगी। एजेन्ट मतदान केन्द्र के 200 मीटर की परिधि में पर्ची बांटने का बूथ नहीं बना सकेंगे और अगर पर्ची वितरण करते है तो उस पर्ची पर किसी भी प्रकार का चुनाव चिन्ह नहीं होना चाहिये।

मतदान दिवस के दिन वाहन मूवमेन्ट नहीं होगा
पुलिस अधीक्षक अनुराग सुजानिया ने बताया कि 3 नवम्बर को मतदान के दिन वाहन मूवमेन्ट बंद रहेगा। केबल हाईवे के वाहनों को छोड़कर। जिले में वाहनों का मूवमेन्ट प्रतिबंधित रहेगा।

मतदाता को कोई शिकायत करनी हो तो इस नम्बर पर फोन करें
पुलिस अधीक्षक ने यह भी बताया है कि यदि किसी मतदाता को शिकायत दर्ज करानी है तो टोल फ्री नम्बर 1950 पर अपनी बात रख सकते हैं। साथ ही इस टोल फ्री नम्बर से चुनाव संबंधी जानकारी भी प्राप्त की जा सकती है। इसके अलावा मतदाता बटपळपस् एप भी डाउनलोड कर सकते हैं। इस एप पर फोटो, वीडियो इत्यादि अपलोड कर शिकायत दर्ज कराई जा सकती है। सी-विजिल पर प्राप्त शिकायतों का समाधान 100 मिनट के भीतर किया जाता है। 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close