मध्य प्रदेशराज्य

पहले ही चरण की काउंसलिंग में फुल हो गई मैनिट की सभी 1173 सीटें

भोपाल
मौलाना आजाद नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (मैनिट) में प्रवेश ज्वाइंट सीट एलोकेशन अथॉरिटी (जोसा) के माध्यम से होता है, लेकिन बीते 13 साल में ऐसा पहली बार हुआ जब पहले ही राउंड की काउंसलिंग में मैनिट की सभी सीटें भर गईं। आमतौर पर मैनिट को सभी सीटें भरने में 3 राउंड की अलॉटमेंट लिस्ट का इंतजार करना पड़ता था। एनआईटी में प्रवेश के लिए छात्रों में प्रतिस्पर्धा तो यूं भी रहती है, लेकिन इस बर मैनिट के लिए छात्रों का इतना रुझान लंबे अरसे बाद देखने को मिला। एनआईआरएफ रैंकिंग में 65वें स्थान पर होने के बावजूद मैनिट इस बार छात्रों की पहली पसंद क्यों बना, हमने इसके कारण मैनिट के डायरेक्टर एडमिशन व जोसा काउंसलिंग के इंचार्ज डॉ. अरविंद मित्तल से जाने।

वो चार कारण : जिसके चलते स्टूडेंट्स का रुझान मैनिट की तरफ हुआ
मप्र और दूसरे प्रदेश से आने वाले छात्रों का कोटा मैनिट में 50-50 फीसदी का होता है। वे छात्र जो जेईई की तैयारी के लिए कोटा या दूसरे शहरों में चले गए थे इसके कारण वे दूसरे प्रदेश की कैटेगरी में गिने गए, लेकिन कोविड पैंडेमिक में पैरेंट्स के पास या होम सिटी में रहने को लेकर उनका रुझान मैनिट की ओर बढ़ा है। एक स्टूडेंट्स तो ऐसा भी है जिसके माता-पिता भोपाल में हैं, लेकिन उसने 12वीं विशाखापत्तनम से की है। उसने भोपाल इसलिए चुना, क्योंकि ऐसे असुरक्षित माहौल में माता-पिता से दूर रहना और सुरक्षित खान-पान मेंटेन रख पाना मुश्किल लग रहा था।

 बेहतर इंफ्रास्ट्रक्चर
पहले की तुलना में मैनिट में इंफ्रास्ट्रक्चर भी बेहतर हुआ है। साथ ही नया 800 बेड वाला हॉस्टल भी तैयार है, जिससे स्टूडेंट्स की रहने की क्षमता बढ़ गई है। पूरा कैंपस वाई-फाई होने से पढ़ने का बेहतर माहौल हुआ है।

 दुनिया के शीर्ष साइंटिस्ट
क्लैरिवेट ने 2019 में दुनिया के शीर्ष 4000 वैज्ञानिकों की सूची जारी की थी, जिसमें भारत के सिर्फ 10 वैज्ञानिकों के नाम थे। इन 10 में दो वैज्ञानिक डॉ. आलोक मित्तल व डॉ. ज्योति मैनिट भोपाल के प्रोफेसर्स हैं।

 20 करोड़ के प्रोजेक्ट
केंद्र सरकार के डिपार्टमेंट ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी के 20 करोड़ के 30 रिसर्च प्रोजेक्ट्स चल रहे हैं। यहां सेंटर ऑफ एक्सीलेंस बन रही है, जिसके तहत एडवांस्ड लैब तैयार होगी। बीते साल ही 3 नए पेटेंट भी मिले हैं।

ब्रांच (सीटों की संख्या) ओपनिंग रैंक क्लोजिंग रैंक

  • केमिकल इंजीनियरिंग (78) 15892 25419
  • सिविल इंजीनियरिंग (114) 21828 27233
  • कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग (230) 3463 6900
  • इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग (136) 12373 15684
  • इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्यूनिकेशन (173) 5720 11181
  • मैकेनिकल इंजीनियरिंग (212) 27542 32927
  • एमएसएमई (78) 14340 22635
  • प्लानिंग (52) 693 2021
  • आर्किटेक्चर (100) 626 1778
Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close