उत्तर प्रदेशराज्य

पति ने काट दिया फावड़े से सिर, 4 किमी दूर जाकर फेंका

नई दिल्ली
एक शख्‍स की पत्‍नी के साथ छेड़खानी हुई तो उसे इतना गुस्‍सा आया कि तीन लोगों के साथ मिलकर उसने छेड़खानी करने वाले का सिर ही काट दिया. उसके बाद सिर को 4 किमी दूर ले जाकर फेंक दिया. यह सनसनीखेज मामला उत्‍तर प्रदेश के देवरिया का है.  उत्तर प्रदेश के देवरिया में सिर कटी लाश मिलने की सनसनीखेज वारदात का पुलिस ने खुलासा करते हुए एक महिला समेत चार अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है. इस जघन्य घटना में यह तथ्य सामने आया है कि मृतक ने निकोलस की पत्नी से छेड़खानी की जिसके विरोध में निकोलस ने अन्य दो साथियों के साथ मिलकर मृतक राजू स्वांसी का फावड़े से गला काटकर अलग कर दिया और धड़ कहीं और सिर को चार किलोमीटर दूर फेंक दिया था.
 
इसमें निकोलस की पत्नी ने भी साक्ष्य मिटाने में सहयोग किया. पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त फावड़ा, चाकू, रस्सी बरामद कर लि‍या है. ये सभी एक मुर्गी फार्म में काम करते हैं और रांची के रहने वाले हैं. जांच में यह सामने आया है कि मृतक राजू स्वांसी ने निकलोस की पत्नी से छेड़खानी व जबरदस्ती की तो पत्नी ने विरोध किया. निकोलस को जानकारी हुई तो उसने अपने दो अन्य साथियों के साथ मिलकर पहले चाकू से गला काटने की कोशिश की. चाकू से गला नहीं कटा तो फावड़े से सि‍र को काटकर अलग कर दि‍या. 
 
गौरतलब है कि थाना रामपुर कारखाना के बरईपुर मंगलराव मंझरिया गांव के पास एक युवक की सिर कटी अर्थात सिर विहीन लाश मिली थी. सूचना पर पुलिस की डॉग स्क्वॉड टीम ने धड़ से 4 किलोमीटर दूर बेलवा बाजार के पास गन्ने के खेत में सिर को बरामद किया जिसकी शिनाख्त राजू स्वांसी के रूप मे हुई. राजू झारखंड के खूंटी जिले के लॉन्तुप का रहने वाला था.
 
एसपी डॉक्टर श्रीपति मिश्रा ने बताया कि 2 नवंबर को एक सिर कटी बॉडी रामपुर कारखाना थाना क्षेत्र के अंतर्गत मिली थी. काफी खोजबीन करने पर इसका सिर बरामद हुआ था. खोजी डॉग की मदद से तो घटनास्‍थल का पता चला. इसमें एक व्यक्ति जो रांची का रहने वाला है वह 2 तारीख को घटनास्थल पर आया था. इसमें जो मुलजिम निकोलस और छोटे है, वह झारखंड का रहने वाला है. उसकी पत्नी से राजू स्वांसी ने अभद्रता करने की कोशिश की थी और बदले में इन लोगों ने उसकी गला रेतकर पूरी गर्दन अलग करके फावड़े से उसको मार दिया और फिर घटनास्थल से दूर ले जाकर सिर को फेंक दिया. इसमें चार अभियुक्तों की गिरफ्तारी हुई है. यह सभी झारखंड के रहने वाले हैं और देवरिया में स्थानीय रूप से एक पॉल्ट्री फॉर्म में काम करते थे.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button