खेल

पंत को अगला महेंद्र सिंह धोनी बनने की बात नहीं सोचनी चाहिए-गंभीर

नई दिल्ली
महेंद्र सिंह धोनी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले चुके हैं और टीम इंडिया की अगले विकेटकीपर बल्लेबाज की तलाश जारी है। धोनी भारत के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर्स में रहे हैं। उनके नाम कई बड़े रेकॉर्ड्स हैं। इसके अलावा उनकी कप्तानी में भारत ने दो वर्ल्ड कप टाइटल के साथ चैंपियंस ट्रोफी भी जीती है। ऐसे में धोनी की रिप्लेसमेंट तलाशना आसान नहीं।

युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत को धोनी का उत्तराधिकारी माना गया। पंत ने शुरुआती मुकाबलों में प्रदर्शन से अपने दावे को पुख्ता किया। हालांकि समय के साथ-साथ उनका खेल, खास तौर पर शॉट सिलेक्शन सवालों के घेरे में रहा। इसके बाद सीमित ओवरों में उनके स्थान पर केएल राहुल विकेटकीपर बल्लेबाज के रूप में पहली पसंद बन गए वहीं टेस्ट में उन्होंने ऋद्धिमान साहा से अपना स्थान गंवा दिया। टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर मानते हैं कि पंत को अगला महेंद्र सिंह धोनी बनने की बात नहीं सोचनी चाहिए। उन्होंने कहा कि कोई भी अगला महेंद्र सिंह धोनी नहीं हो सकता।

गंभीर ने कहा, 'कोई भी महेंद्र सिंह धोनी नहीं हो सकता। सबसे पहले आपको ऋषभ पंत को महेंद्र सिंह धोनी कहना बंद कर देना चाहिए। मीडिया को यह नहीं करना चाहिए। जितना मीडिया इसके बारे में बात करता है, उतना ऋषभ पंत इस बारे में सोचना शुरू कर देते हैं। वह कभी महेंद्र सिंह धोनी नहीं हो सकते। उन्हें ऋषभ पंत ही रहना होगा।'

गंभीर ने कहा, 'बात जब अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में छक्के लगाने की थी तो महेंद्र सिंह धोनी के पास काफी रेंज थी। जहां तक ऋषभ पंत की बात है तो वह सिर्फ बड़े छक्के लगा रहे थे लोगों ने उनकी तुलना महेंद्र सिंह धोनी से करनी शुरू कर दी। ऋषभ पंत को काफी सुधार की जरूरत है खास तौर पर विकेटकीपिंग को लेकर। इसके साथ ही उन्हें बल्लेबाजी पर भी काम करना चाहिए।'

इस सीजन में पंत ने 12 मैच खेले और सिर्फ 285 रन बनाए। और उनका स्ट्राइक रेट भी सिर्फ 109 का रहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close