राष्ट्रीय

पंच पटेल हुए गुर्जर नेता कर्नल किरोड़ी बैंसला के आंदोलन के खिलाफ

भरतपुर
भरतपुर के बयाना इलाके में तीन दिन से लगातार गुर्जर आंदोलन जारी रखा है। लेकिन अब गुर्जर नेता कर्नल किरोड़ी बैंसला के सामने बड़ी मुसीबत आ सकती है , क्योंकि बयाना इलाके के गुर्जर समाज के पंच पटेलों ने इस आंदोलन के खिलाफ पंचायत की है। उन्होंने आह्वान किया है कि जब सरकार ने सभी मांग मान ली, तो आंदोलन क्यों किया जा रहा है, इसलिए हमारे इलाके में शांति बनाये रखने के लिए कर्नल साहब इस आंदोलन को बंद करें।

विजय बैंसला ने कहा- वार्ता बंद कमरे में नहीं होगी
गुर्जर नेता विजय बैसंला ने बताया कि गुर्जर समाज सभी का स्वागत करती है जो सरकार की तरफ से वार्ता के लिए आये, लेकिन वार्ता बंद कमरे में नहीं की जाएगी। बल्कि वार्ता आंदोलन स्थल पर ही सभी के सामने की जायेगी। उन्होंने कहा कि गुर्जर समाज विगत पौने दो साल से सरकार के साथ वार्ता ही करता आया है, लेकिन पांच मांग है जिनको सरकार पूरा कर दे तो हम आंदोलन को ख़त्म कर देंगे। उन्होंने कहा कि खेल मंत्री अशोक चांदना से भी फ़ोन पर बात हुई थी, जिसमें उनको बुलाया गया था मगर वह जब आये तो रात हो चुकी थी इसलिए उनको बापस ही जाना पड़ा। हम आंदोलन को लम्बे समय तक चलाएंगे। हमारी मांग है कि जो समझौता पूर्व में हुआ था उसका क्रियान्वयन कराया जाए, लिहाजा बात ही ख़त्म हो जाएगी।

समाज के नेता आंदोलन के खिलाफ
मिली जानकारी के अनुसार इधर वहीं अब बयाना इलाके के ज्यादात्तर गुर्जर समाज के लोग कर्नल किरोड़ी बैंसला के आंदोलन के खिलाफ हो गए है। वे नहीं चाहते कि उनके इलाके में कर्नल की ओर से आंदोलन किया जाए। यहां अब गुर्जरों के बीच भी विघटन होता भी नजर आ रहा है क्योंकि गुर्जर नेताओं के जो प्रतिनिधिमंडल जयपुर सरकार के साथ वार्ता के लिए गया था । वार्ता सफल रही उसके बाद अब गुर्जरों का दूर दल इस आंदोलन को अनुचित बताते हुए आंदोलन को ख़त्म करने की बात कह रहा है। यही वजह है कि बयाना इलाके के गुर्जर समाज के पंच पटेल एक जगह इकट्ठे हुए और उन्होंने आंदोलन को गलत बताया है। गुर्जर नेता दीवान शेरगढ़ का कहना है कि जब सरकार ने सारी मांग मान ली है, तो फिर आंदोलन करना गलत है।

पुलिस जाब्ता तैनात, वार्ता से निकालें हल
वहीं भरतपुर के पुलिस महानिरीक्षक संजीव नर्जरी ने बताया कि हम गुर्जरों को वार्ता के लिए बुला रहे है , लेकिन रेल मार्ग पर बैठने से कोई समाधान नहीं होगा। आंदोलन को देखते हुए हमने सभी जगह पुलिस जाब्ता तैनात कर रखा है। हम नहीं चाहते है कि मामला बिगड़ जाए , इसलिए हम अपील कर रहे है की वार्ता कर समाधान तक पहुंचे। ताकि आम जन की परेशानियां दूर हो।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button