अंतरराष्ट्रीय

दिल्ली: 2015 से पुरानी अंतरराज्जीय बसों को नहीं मिलेगा प्रवेश, जल्द शुरू होगी सेवा

नई दिल्ली 
दिल्ली में अंतरराज्जीय बस सेवा इसी सप्ताह शुरू हो जाएगी। मगर दिल्ली में 2015 से पुरानी अंतराज्जीय बसों को प्रवेश नहीं मिलेगा। अंतरराज्जीय बस सेवा शुरू करने को लेकर दिल्ली परिवहन विभाग की ओर से तैयार मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) में यह शर्त रखी गई है। इसका कारण दिल्ली में बढ़े प्रदूषण को कारण बताया गया है। सूत्रों की माने तो आगामी मंगलवार से अंतरराज्जीय बस अड्डे से बसों का परिचालन शुरू किया जा सकता है। परिवहन विभाग की ओर से तैयार एसओपी को लेकर परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने सोमवार को परिवहन अधिकारियों की बैठक बुलाई है। जिसमें एसओपी को लेकर चर्चा की जाएगी। परिवहन विभाग ने एसओपी में 15 नवंबर तक 50 फीसदी अंतरराज्जीय बस सेवा शुरू करने को कहा है। जिससे अचानक से बसों व बसअड्डे पर भीड़ ना बढ़े। अगर सब ठीक रहा तो बाद में पूरी क्षमता के साथ परिचालन शुरू किया जा सकता है।  दिल्ली में कुल तीन कश्मीरी गेट, आनंद विहार और सराय काले खां अंतरराज्जीय बस अड्डा है। लॉकडाउन से पहले तीन जगहों से कुल 3467 अंतरराज्जीय बसें विभिन्न राज्यों के चलती थी। इससे रोजोना तीन लाख लोग सफर करते थे। सबसे अधिक बसें कश्मीरी गेट बसअड्डे से चलती है। 

बसअड्डे पर होगी कोविड जांच की व्यवस्था
दिल्ली परिवहन विभाग ने कहा कि बसअड्डे पर कोविड जांच कराने की भी व्यवस्था होगी। बसअड्डे में प्रवेश से पहले सभी खी थर्मल स्क्रीनिंग होगी। बस चालक व उसके सहायक की भी स्क्रीनिंग की जाएगी। अगर कोई मरीज में किसी भी तरह के लक्षण मिलता है तो उसका वहां बसअड्डे पर बने कोविंड जांच केंद्र में रैपिड/आरटीपीसीआर जांच कराई जाएगी। बाहर से आने वाले यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग होती जरूरत लगने पर जांच भी कराई जाएगी। 

बसअड्डे से निकलने से पहले बसों को करेंगे सैनिटाइज
परिवहन विभाग के मुताबिक जिस राज्य की बस होगी उसे वहां से चलने से पहले सैनिटाइज करना होगा। उसका प्रमाण पत्र दिल्ली बसअड्डा प्रशासन को दिखाना होगा। इसी तरह जब दिल्ली के बसअड्डे से बस जाएगी तो उसे सैनिटाइज किया जाएगा। जिससे कोविड संक्रमण को आगे बढऩे से रोका जा सके। सभी यात्रियों के लिए मास्क  लगाना अनिवार्य होगा। लक्षण होने पर यात्रा की अनुमति नहीं मिलेगी। 

इन राज्यों के लिए दिल्ली से बसें 
उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, हरियाणा, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश, पंजाब व चंडीगढ़ के लिए चलती है बसें, दिल्ली में तीन अंतरराज्जीय बसअड्डा

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button