खेल

दिल्ली कैपिटल्स Vs मुंबई इंडियंस: चार बार के चैंपियन मुंबई को लीग चरण में हराना आसान नहीं

दुबई
बड़े मैचों में खेलने का अपार अनुभव रखने वाली मुंबई इंडियंस की मजबूत टीम और इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के वर्तमान सत्र में शानदार प्रदर्शन करने वाली दिल्ली कैपिटल्स के बीच गुरुवार को दुबई में पहले क्वालीफायर में कांटे का मुकाबला होने की संभावना है। आईपीएल में चार बार के चैंपियन मुंबई की टीम को लीग चरण में हराना आसान नहीं रहा, लेकिन मंगलवार को सनराइजर्स हैदराबाद के हाथों 10 विकेट की हार से उसका थोड़ी लय गड़बड़ा गई है।

दूसरी तरफ अपने पहले खिताब की कवायद में लगे दिल्ली ने लगातार चार मैच गंवाने के बाद रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को छह विकेट से हराकर दूसरा स्थान हासिल किया। इस जीत से निश्चित तौर पर उसका मनोबल बढ़ा होगा। मुंबई की टीम के लिए सकारात्मक पहलू उसके कप्तान रोहित शर्मा की वापसी है जो हैमस्ट्रिंग के कारण चार मैचों में नहीं खेल पाए थे। यह स्टार सलामी बल्लेबाज हालांकि सनराइजर्स के खिलाफ जल्दी पवेलियन लौट गया था।

मौजूदा चैंपियन के पास आक्रामक बल्लेबाज हैं और बेहतरीन गेंदबाज हैं, लेकिन सनराइजर्स के खिलाफ उसके बल्लेबाज नहीं चल पाए थे। उसके गेंदबाजों को भी विकेट नहीं मिल पाया था और महत्वपूर्ण मैच से पहले यह उनके लिए अच्छा सबक रहा कि किसी भी मैच को सहजता से नहीं लेना चाहिए। दिल्ली का मध्यक्रम उम्मीदों के अनुरूप प्रदर्शन करने में नाकाम रहा है। वह मुख्य तौर पर एक या दो खिलाड़ियों पर निर्भर रहा है।

मुंबई के शीर्ष क्रम ने अच्छा प्रदर्शन किया है। युवा ईशान किशन (428 रन) उसके प्रमुख बल्लेबाज के रूप में उभरे हैं। क्विंटन डिकॉक (443 रन) अपनी शानदार फॉर्म जारी रखने के लिए तैयार होंगे। इसके बाद सूर्यकुमार यादव (410 रन) ने अपनी भूमिका बखूबी निभाई है। लंबे शॉट खेलने में माहिर हार्दिक पांड्या (241 रन), कीरोन पोलार्ड (259 रन) और क्रुणाल पांड्या (95) ने जरूरत पड़ने पर अपने कौशल का बखूबी प्रदर्शन किया है। पोलार्ड ने सनराइजर्स के खिलाफ भी चार छक्के लगाए थे।

मुंबई ने अपने मुख्य गेंदबाजों जसप्रीत बुमराह (23 विकेट) और ट्रेंट बोल्ट (20 विकेट) को सनराइजर्स के खिलाफ विश्राम दिया था। इन दोनों ने शुरुआत और डैथ ओवरों में घातक गेंदबाजी की है। राहुल चाहर और क्रुणाल को दिल्ली के खिलाफ मैदान पर उतरने से पहले सनराइजर्स के डेविड वार्नर और रिद्धिमान साहा के हाथों हुई धुनाई को भूलना होगा।

दूसरी तरफ अजिंक्य रहाणे का फॉर्म में लौटना दिल्ली के लिए अच्छे संकेत हैं। उन्होंने आरसीबी के खिलाफ 60 रन की मैच विजेता पारी खेली थी। शिखर धवन (525) शानदार फॉर्म में हैं, लेकिन उन्हें अन्य बल्लेबाजों से सहयोग की दरकार है। दिल्ली की बड़ी चिंता पृथ्वी शॉ और ऋषभ पंत की फॉर्म है जो अभी तक उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे हैं। उनके विदेशी खिलाड़ियों शिमरोन हेटमायर और मार्कस स्टोइनिस को भी महत्वपूर्ण मैच में अपनी फॉर्म दिखानी होगी। कप्तान श्रेयस अय्यर (421) को पारी संवारने का बीड़ा उठाना होगा।

दक्षिण अफ्रीका के कगिसो रबाडा (25 विकेट) और एनरिक नोर्जे (19 विकेट) ने उसकी गेंदबाजी विभाग की अगुवाई सफलतापूर्वक की है। रविचंद्रन अश्विन और अक्षर पटेल ने स्पिन विभाग अच्छी तरह से संभाला है। इससे पहली लीग चरण में मुंबई ने दिल्ली को दोनों मैच में हराया था, लेकिन रोहित ने कहा कि वह इतिहास है। रोहित ने कहा, ''यह मजेदार प्रारूप है जिसमें लगातार अच्छा खेलना होता है। आप दिल्ली कैपिटल्स पर मिली दो जीत को याद करना चाहोगे, लेकिन हमें वर्तमात में जीना है और लगातार सुधार करना है।"

दोनों टीमों की संभावित प्लेइंग XI:
मुंबई इंडियंस:
रोहित शर्मा (कप्तान), क्विंटन डिकॉक, सूर्यकुमार यादव, ईशान किशन, कीरोन पोलार्ड, हार्दिक पांड्या, ट्रेंट बोल्ट, जसप्रीत बुमराह, राहुल चाहर, क्रुणाल पांड्या, राहुल चाहर।

दिल्ली कैपिटल्स: श्रेयस अय्यर (कप्तान), शिखर धवन, पृथ्वी शॉ, अजिंक्य रहाणे, मार्कस स्टोइनिस, ऋषभ पंत, शिमरोन हेटमायर, अक्षर पटेल, एनरिच नॉर्टजे, रविचंद्रन अश्विन, कगिसो रबाडा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button