अंतरराष्ट्रीय

दिल्ली के बाजारों में इतनी भीड़, कोरोना खत्म हो गया क्या?

नई दिल्ली
दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच शनिवार को दिल्ली की सरोजिनी नगर मार्केट से हैरान करने वाली तस्वीरें सामने आई हैं। तस्वीरों को देखकर ऐसा लग रहा है कि देश में कोरोना वायरस नाम का कोई खतरा है ही नहीं , लोग सामान्य दिनों की तरह खरीददारी करते हुए दिखाई दे रहे हैं। दरअसल, त्योहारों का सीजन शुरू होने के चलते दिल्ली के बाजारों में भीड़ लगने लगी है। ऐसे में कोरोना वायरस के मामलों में इजाफा होने की संभावना काफी बढ़ गई है। ताज्जुब की बात तो यह है कि खरीददारी करने वाले लोग भी इस बात को मान रहे हैं कि मार्केट में काफी भीड़ है, मगर त्योहारों में खरीददारी करने की बात कहकर वह कोरोना के खतरे को नजरअंदाज कर रहे हैं।

चौथे दिन 5 हजार से ज्यादा लोग एक दिन में वायरस से संक्रमित
दिल्ली में लगातार चार दिनों से संक्रमण के 5 हजार से अधिक नए मरीज सामने आ रहे हैं। शनिवार को कोविड-19 संक्रमण के 5,062 नए मामले सामने आने के बाद कुल आंकड़ा 3,86,706 पहुंच गया। वहीं, संक्रमण के कारण 41 और मरीजों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 6,511 हो गई। त्योहारों के इस मौसम में बढ़ते प्रदूषण के बीच संक्रमित होने की दर बढ़कर 11.42 प्रतिशत पहुंच गई है। शुक्रवार को दिल्ली में संक्रमण के सर्वाधिक 5,891 नए मामले सामने आए थे। इससे पहले गुरुवार को 5739 और बुधवार को 5673 नए केस सामने आए थे।

प्रशासन ने दुकानदारों को दी खास हिदायत
कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट (ईस्ट) ने मार्केट असोसिएशन के पदाधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में 40 से अधिक मार्केट असोसिएशन के पदाधिकारी मौजूद रहे। त्योहारों को लेकर बाजारों में ग्राहकों की भीड़ उमड़ रही है। ग्राहक न तो सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहे हैं और नहीं मास्क लगा रहे हैं। ऐसे में अधिकारियों ने मार्केट असोसिएशन के पदाधिकारियों को सख्ती के साथ नियमों का पालन करने के लिए हिदायत दी।

मार्केट सील होने का खतरा
अधिकारियों ने चेतावनी देते हुए कहा कि यदि किसी मार्केट की अधिक शिकायतें मिलती हैं, तो उस मार्केट को कुछ दिनों से लेकर दो सप्ताह के लिए सील भी किया जा सकता है। झील कुरंजा मेन रोड व्यापार मंडल के अध्यक्ष प्रेम प्रकाश कुकरेजा ने बताया कि मीटिंग में डीएम ईस्ट के अलावा तीनों डिविजन के एसडीएम सहित अन्य अधिकारी भी शामिल हुए। अधिकारियों ने कहा कि अगर किसी मार्केट की अधिक शिकायतें मिलती हैं, तो उसे सील भी किया जा सकता है। मीटिंग के दौरान मार्केट के पदाधिकारियों ने मार्केट से जुड़ी कई समस्याओं को रखा। मार्केट असोसिएशन के पदाधिकारियों ने कहा कि दुकानदार तो हर तरह की एहतियात बरत रहे हैं, लेकिन मार्केट में लगने वाली रेहड़ियों पर कोई एहतियात नहीं बरती जाती। समस्या सुनने के बाद एसडीएम ने कहा कि पुलिस और एमसीडी अधिकारियों के साथ मिलकर रेहड़ियों को कुछ दूरी पर लगाने की व्यवस्था की जाएगी। दो रेहड़ी के बीच कम से कम पांच मीटर की दूरी होनी चाहिए।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button