अंतरराष्ट्रीय

दिल्लीः प्रदूषण की चादर में छुप गया चांद, डेढ़ घंटे तक इंतजार करती रहीं सुहागिनें

नई दिल्ली

दिल्ली में रहने वाली महिलाओं को करवा चौथ का व्रत खोलने के लिए चांद का लंबा इंतजार करना पड़ा. दिल्ली में चांद दिखने का समय 8 बजकर 12 मिनट था, लेकिन प्रदूषण के कारण चांद डेढ़ घंटे देरी से दिखा. राष्ट्रीय राजधानी में चांद का दीदार 9 बजकर 45 मिनट पर हुआ. बता दें कि दिल्ली में प्रदूषण के कारण बुधवार को सुबह से ही धुंध की चादर छाई हुई है. प्रदूषण का स्तर बढ़ने से हवा जहरीली हो रही है. इससे पहले पटना और चंडीगढ़ में महिलाओं ने चांद देखकर अपना व्रत खोला. वहीं पंजाब के अमृतसर में भी महिलाओं ने चांद को अर्घ्य देने के बाद व्रत खोला. करवा चौथ के दिन महिलाएं पति की लंबी उम्र की कामना करती हैं. इस दिन भगवान गणेश, गौरी और चंद्रमा की पूजा की जाती है. चंद्रमा को आयु, सुख और शांति का कारक माना जाता है. इसलिए चंद्रमा की पूजा करके महिलाएं वैवाहिक जीवन में सुख, शांति और पति की लंबी आयु की कामना करती हैं.

 

दिल्ली में विजिबिलिटी काफी कम

आसमान में धुंध के कारण दिल्ली में विजिबिलिटी काफी कम है. कई इलाकों में हवा की गुणवत्ता (AQI) बेहद खराब स्तर पर है. दिल्ली के आनंद विहार में AQI 742 दर्ज किया गया. बता दें कि 0 और 50 के बीच एक्यूआई को 'अच्छा', 51 और 100 के बीच 'संतोषजनक', 101 और 200 के बीच 'मध्यम', 201 और 300 के बीच 'खराब', 301 और 400 के बीच 'बेहद खराब' और 401 से 500 के बीच 'गंभीर' माना जाता है.

 

दिल्ली में न्यूनतम तापामान 10.6

वहीं, दिल्ली के तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई. दिल्ली में बुधवार को न्यूनतम तापामान 10.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. मौसम विभाग के मुताबिक हवाओं की मंद गति और कम तामपान की वजह से प्रदूषण फैलाने वाले तत्व सतह के करीब जमा हो जाते हैं. लेकिन हवा की गति तेज होने से इनके बिखरने में मदद मिलती है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close